•  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली। कई युवतियां मानसून का खुलकर लुत्फ लेना पसंद करती हैं, लेकिन बारिश में झूमने और डांस करने से बाल खराब हो सकते हैं। इस मौसम में कम से कम बालों के उत्पाद का इस्तेमाल करें और पैरों को मुलायम बनाए रखने के लिए लैक्टिक एसिड युक्त मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करें। नानावती सुपर स्पेशलिस्ट त्वचा विशेषज्ञ वंदना पंजाबी ने बालों से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए ये सुझाव दिए हैं :

* कम से कम बालों के उत्पादों का इस्तेमाल करने की कोशिश करें। सौम्य शैम्पू और कंडीशनर का इस्तेमाल करें और हेयर स्प्रे का इस्तेमाल करने से खासकर बचें।

* हर बार बाल धुलने के बाद कंडीशनर का इस्तेमाल करें, लेकिन इसे स्कैल्प और जड़ों में लगाने के बजाय बालों पर लगाएं।

* बालों को रोज धुलें और साफ रखें।

* प्रोटीन से समृद्ध आहार का सेवन करें। ज्यादा से ज्यादा फलों और सब्जियों का सेवन करें और खूब पानी पीएं।

* मानसून के दौरान छोटे बाल रखें और गुनगुने तेल से मसाज करें, क्योंकि यह बालों को पोषण प्रदान करता है।

* मानसून में हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करने से बचें और अगर इस्तेमाल करना जरूरी हो तो बालों को सुखा लें और स्कैल्प से ड्रायर को कम से कम छह इंच दूर रखकर ही इस्तेमाल करें। बालों पर केमिकल युक्त उत्पादों का प्रयोग नहीं करें यानी बालों को स्ट्रेट बनाने और हाईलाइट करने से बचें।

* बारिश में बालों को गीला होने से बचाएं खासकर बारिश के शुरुआती दिनों में गीले होने से बचें, क्योंकि बारिश के पानी में हवा में मौजूद धूल कण मिले होते हैं, जो आपको बालों को कमजोर और बेजान बना सकते हैं।

स्किन एंड यू क्लीनिक की संस्थापक व त्वचा विशेषज्ञ गीता फैजलभॉय ने मानसून के दिनों में पैरों का ख्याल रखने के संबध में ये जानकारियां दी हैं :

* बारिश में बाग जाने पर तो गुनगुने पानी से नहाएं और अच्छी तरह से शरीर पोंछकर कपड़े पहनें।

* फंगल इंफेक्शन से बचने के लिए पैरों को साफ और सूखा रखें। साबुन से पैरों को धोकर एंटी-फंगल पाउडर लगाएं और ओपन शूज पहनें। गीले मोजे पहनने से बचें।

* पैरों को मुलायम रखने के लिए लैक्टिक एसिड और ग्लाइकोलिक एसिड युक्त मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करें।