•  
  •  
  •  
  •  
  •  
विश्व के लगभग सभी नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश की जनता के साथ किए जानेवाले संवाद कार्यक्रम मन की बात में रुचि दिखाई है। इन नेताओं का मानना ​​है कि जनता के साथ जुड़ने का यह सबसे अच्छा माध्यम है।

मोदी की जनता के साथ बातचीत को एक संस्करण के रूप में प्रकाशित करने का काम किया जाएगा। मन की बात नाम की इस पुस्तक को कई भाषाओं में प्राकाशित करने की योजना है। यह पुस्तक जल्द ही अलग-अलग भाषाओं में छापी जाएगी और जापान से तंजानिया तक के देशों तक इसे डिजिटल रूप में पेश करने की भी योजना है।
मोहन रामास्वामी, एमडी (भारत और दक्षिण एशिया) लेक्सिस नेक्सिस, जो मन की बात के पहले संस्करण के प्रकाशक हैं, का कहना है कि ‘विश्व के नेताओं को यह जानना चाहिए कि रेडियो के माध्यम से विचार साझा करने का यह तरीका कितना बेहतरीन है। आप एक तरह से इसे परिवर्तनकारी कदम मान सकते हैं। जहां लोग इंटरनेट और टीवी के उपयोग से बचते हुए एक ऐसे माध्यम से लोगों के साथ जुड़ते हैं। जिसका उपयोग देश की एक बड़ी जनसंख्या कर रही होती है और जो हर जगह सुलभ है और लोग इसके जरिए कहीं भी अपने नेता का संवाद सीधे तौर पर सुन सकते हैं।’
आगे पढ़ें ‘मन की बात’ किताब में कितने एपिसोड का किया गया है संकलन
Prev1 of 4Next