नई दिल्ली। राजग की तरफ से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद दिल्ली पहुंच गए हैं। सदन में एनडीए का जितना बहुमत है उसे देखते हुए उनका राष्ट्रपति बनना तकरीबन तय है। अपने नाम की घोषणा होने के बाद कोविंद पटना से दिल्ली आए हैं। वे यहां भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले।  रामनाथ कोविंद ने सोमवार शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके आवास पर मुलाकात की। बैठक में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे।

दिल्ली एयरपोर्ट पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा, भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, कैबिनेट मंत्री थावरचंद गहलोत उन्हें रिसीव करने पहुंचे। इससे पहले उनके नाम की घोषणा होते ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कोविंद से मिलने पहुंचे। नीतीश ने अपनी मुलाकात को सामान्य शिष्टाचार बताया और कहा कि कोविंद की उम्मीदवारी के ऐलान से वे खुश हैं।


पटना से यहां पहुंचने पर कोविंद ने संवाददाताओं से कहा, “मैं इलेक्टोरल कॉलेज के तमाम सदस्यों से अपील करता हूं, जो सभी राजनीतिक पार्टियों के सांसद व विधायक हैं। मैं उनसे अपील करूंगा, मैं उनसे मिलूंगा और उनका आशीर्वाद लूंगा।”

यह पूछे जाने पर कि क्या उनसे मुलाकात के दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनका समर्थन किया, बिहार के राज्यपाल ने कहा कि जनता दल (युनाइटेड) के नेता ने उनसे शिष्टाचार मुलाकात की थी।

उन्होंने कहा, “चूंकि मैं बिहार का राज्यपाल हूं और जब उन्हें मेरी उम्मीदवारी का पता चला तो उन्होंने शिष्टाचार के नाते मुझसे मुलाकात की।”

यह पूछे जाने पर कि क्या विपक्ष उनके खिलाफ उम्मीदवार खड़ा करेगा, कोविंद ने कहा, “मुझे लगता है कि मुझे भारत के हर नागरिक का समर्थन व आशीर्वाद मिलेगा।”

उन्होंने ‘एक साधारण नागरिक’ को इतनी बड़ी जिम्मेदारी सौंपने तथा विश्वास जताने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा भाजपा परिवार का शुक्रिया अदा किया।

दिल्ली पहुंचने पर कोविंद का थावर चंद गहलोत, जे. पी. नड्डा, भूपेंद्र यादव तथा कैलाश विजयवर्गीय सहित केंद्रीय मंत्रियों तथा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कई सांसदों ने स्वागत किया।

कोविंद ने खुद को राजग की तरफ से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद पटना में कहा कि ‘यह एक कर्तव्य है। इसे एक कर्तव्य के रूप में लेते हैं।’

राज्यपाल ने कहा कि बिहार को उनकी तरफ से ढेर सारी शुभकामनाएं। उन्होंने कहा कि बिहार के पास समृद्ध संस्कृति, समृद्ध परंपरा तथा कई विरासत है।


पटना से दिल्ली रवाना होने से पहले कोविंद ने बिहार के लोगों को बधाई देते हुए कहा कि यह ‘बिहार की धरती का कमाल है।’ दिल्ली रवाना होने से पहले पत्रकारों से मुखातिब कोविंद ने कहा, “मैं इस समय कुछ और नहीं कहूंगा, यह बिहार की धरती का कमाल है। मैं बिहार के विकास की कामना करता हूं और यहां के लोगों को बधाई देता हूं।”

रामनाथ कोविंद ने खुद को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की तरफ से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद सोमवार को कहा कि ‘यह एक कर्तव्य है। इसे एक कर्तव्य के रूप में लेते हैं।’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के लिए नई दिल्ली रवाना होने से पहले कोविंद ने कहा कि बिहार को उनकी तरफ से ढेर सारी शुभकामनाएं।