सुनिए क्या कह डाला अमित शाह ने यहां कि उड़ जाएगी विरोधियों की नींद

Avatar Written by: September 11, 2018 4:59 pm

नई दिल्ली। एनआरसी को लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का साफ कहना है कि देश में एक भी घुसपैठिए को रहने नहीं दिया जाएगा। सरकार चुन-चुनकर हर विदेशी नागरिक को उनके मुल्क वापस भेजेगी।

BJP president, Amit Shah
नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन को लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने साफ किया है कि एक भी बांग्लादेशी घुसपैठिए को भारत में नहीं रहने दिया जाएगा, सभी को चुन-चुनकर बाहर निकालेंगे। शाह ने कहा कि बांग्लादेशी घुसपैठियों के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी की नीति एकदम साफ है कि हमारी पार्टी किसी भी हालात में इससे समझौता नहीं करेगी।

BJP president, Amit Shah

भाजपा के पार्टी कार्यकर्ताओं के शक्ति केंद्र सम्मेलन को संबोधित करते हुए शाह ने कहा- पार्टी का संकल्प है कि एक भी बांग्लादेशी घुसपैठिया भारत में ना रहने पाए, सभी को उनके देश वापस भेजा जाए। तो वहीं शाह ने एनआरसी का विरोध करने वालों पर भी निशाना साधते हुए कहा कि वोट बैंक की चिंता करने वाले मानवाधिकार की बात करते हैं, उन्हें इस देश की और इस देश के गरीब की चिंता बिल्कुल भी नहीं है।

Amit Shah in Jaipur rally

इसके अलावा अमित शाह ने पाक से भारत में आए हिंदुओं के मुद्दे को लेकर भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिटीजन अमेंडमेंट बिल लेकर आए हैं, जिसमें हमने तय किया है कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान के अलावा बांग्लादेश से आए सिख, हिंदू, बौद्ध और जैन घुसपैठिए नहीं बल्कि वो सभी शरणार्थी हैं और उन सभी को भारत में नागरिकता दी जाएगी।

साथ ही जानकारी के लिए बता दें कि सोमवार को भाजपा महासचिव राम माधव भी कह चुके हैं कि असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण की अंतिम सूची में शामिल नहीं किए जाने वाले लोगों का मताधिकार छीन लिया जाएगा और उन्हें वापस उनके देश भेज दिया जाएगा। तो वहीं असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल का कहना है कि एनआरसी को सिर्फ असम ही नहीं पूरे भारत में लागू किया जाना चाहिए।

Bangladeshi in Assam

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद असम में एनआरसी की कार्रवाई की गई, जिसके मुताबिक, 30 जुलाई 2018 को प्रकाशित मसौदा सूची में 40 लाख से ज्यादा लोगों के नाम शामिल नहीं किए गए, यानि कि अब उन्हें भारत से निकाला जाएगा और वापस बांग्लादेश भेजा जाएगा।