स्वाइन फ्लू के इलाज के बाद अमित शाह को एम्स से मिली छुट्टी

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को एम्स से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अमित शाह को इसी हफ्ते बुधवार को स्वाइन फ्लू के कारण दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था। एम्स के डॅाक्टरों ने 15 दिन तक अमित शाह को आइसोलेशन में रखने की सलाह दी थी।

Avatar Written by: January 20, 2019 11:36 am

नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को एम्स से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अमित शाह को इसी हफ्ते बुधवार को स्वाइन फ्लू के कारण दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था। एम्स के डॅाक्टरों ने 15 दिन तक अमित शाह को आइसोलेशन में रखने की सलाह दी थी।

भाजपा नेता अनिल बलूनी ने यह जानकारी दी है। बलूनी ने ट्वीट कर बताया, ‘हम सभी के लिए हर्ष का विषय है कि हमारे यशस्वी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी आज पूर्ण रूप से स्वस्थ हो एम्स से डिस्चार्ज होकर अपने निवास आ गए हैं।’


बलूनी ने पार्टी के कार्यकर्ताओं और शाह शुभचिंतकों का अभार भी व्यक्त किया। अमित शाह ने भी अस्पताल से डिस्चार्ज होने की जानकारी ट्वीट के जरिए दी। इससे पहले अमित शाह ने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी थी कि उन्हें स्वाइन फ्लू हो गया है।


बता दें कि इससे पहले शाह पर कांग्रेस नेता बीके हरिप्रसाद ने विवादित टिप्पणी की थी। हरिप्रसाद ने कहा था कर्नाटक सरकार को अस्थिर करने की कोशिश करेंगे तो और भी गंभीर बीमारियां होंगी। कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘बोगस चाणक्य ने कर्नाटक में तीन बार कोशिश की और फेल हुए। अमित शाह ने चार कांग्रेस विधायकों को अगवा करवाया और उनके परिजन अब अदालत में केस दर्ज कराएंगे। इसीलिए अमित शाह स्वाइन फ्लू से पीड़ित हैं। उन्हें अब शांत हो जाना चाहिए।

हरि प्रसाद के इस बयान पर बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने हरिप्रसाद के बयान को असंवेदनशील और असभ्य बताया। विजयवर्गीय ने कहा,’बीके हरिप्रसाद का बयान असभ्य और असंवेदनशील है। अगर मैं यह पूछता हूं कि कांग्रेस की पूर्व अध्यक्षा सोनिया गांधी कैसे बीमार पड़ीं और अब वह इस बारे में हमें क्यों नहीं बतातीं तो यह गलत होगा। कोई भी, भले ही वह किसी भी विचारधारा का हो उसके बीमार पड़ने पर हमें सिर्फ उसके स्वस्थ होने की कामना करनी चाहिए।’

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने हरिप्रसाद के बयान पर पलटवार करते हुए ट्वीट किया, ‘जिस तरह का गंदा और बेहूदा बयान कांग्रेस के सांसद बीके हरिप्रसाद ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाहजी के स्वास्थ्य के लिए दिया है, यह कांग्रेस के स्तर को दर्शाता है। फ्लू का उपचार है लेकिन कांग्रेस के नेताओं की मानसिक बीमारी का उपचार मुश्किल है।’