कोर्ट ने दिया आदेश, छेड़छाड़ केस में आरके पचौरी के खिलाफ तय हो आरोप

Written by Newsroom Staff September 14, 2018 5:19 pm

नई दिल्ली। दिल्ली के साकेत कोर्ट ने शुक्रवार को टेरी के पूर्व प्रमुख आर के पचौरी के खिलाफ दायर मामले में छेड़छाड़ के आरोप तय करने का आदेश दिया है। पचौरी पर सहकर्मी द्वारा यह मामला दर्ज करवाया गया था। इस मामले की अगली सुनवाई अब 20 अक्टूबर को होगी। हालांकि, कोर्ट ने पचौरी को कुछ अन्य धाराओं से बरी कर दिया।RK-Pachauri

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट चारू गुप्ता ने भारतीय दंड संहिता की धारा 354, 354ए(यौन उत्पीड़न) और 509 (स्त्री की लज्जा भंग करना) के तहत केस दर्ज किया है।RK-Pachauri

गौरतलब है कि 13 फरवरी 2015 को एके पचौरी के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज कराई गई थी और इस केस में उन्होंने अग्रिम जमानत ली थी। महिला कर्मचारी ने पचौरी के खिलाफ यौन उत्पीड़न की पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। इस मामले कोर्ट ने पचौरी को 21 मार्च 2015 को अग्रिम जमानत दे दी थी। एक साल लंबी जांच के बाद अब इस मामले में आरोपपत्र दाखिल किया गया।RK-Pachauri

13 फरवरी 2015 में पचौरी की एक पूर्व साथी ने उनपर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। इसके बाद फरवरी 2016 में एक अन्य महिला ने ऐसे ही आरोप लगाए। दूसरी महिला के मुताबिक, उनके साथ यह सब 10 साल पहले हुआ था। महिला ने टेरी को उन्हें कार्यकारी उपाध्यक्ष नियुक्त करने की आलोचना भी की थी।RK-Pachauri

केस दर्ज होने के बाद पचौरी ने आईपीसीसी के पद से इस्तीफा दे दिया था। हालांकि, टेरी की अंतरिम कमिटी द्वारा जांच में दोषी पाए जाने के बावजूद वह इस संस्था में अपने पद पर बने रहे, जिसकी काफी आलोचना हुई थी।

Facebook Comments