बिहार-सीमांचल एक्सप्रेस हादसे में सरकार ने किया मुआवजे का ऐलान

बिहार के वैशाली जिले में रविवार सुबह 12487 जोगबनी-आनंद बिहार सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में सात लोगों की मौत हो गई और 36 लोग घायल हो गए।

Written by: February 3, 2019 6:23 pm

नई दिल्ली। बिहार के वैशाली जिले में रविवार सुबह 12487 जोगबनी-आनंद बिहार सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में सात लोगों की मौत हो गई और 36 लोग घायल हो गए। रेलवे ने हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। रेलवे और बिहार सरकार ने मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे की घोषणा की है। हादसे के बाद कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है और कुछ को मार्ग (रूट) बदलकर चलाया जा रहा है।

train acci

पूर्व-मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार के मुताबिक, “जोगबनी से दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनल को जा रही सीमांचल एक्सप्रेस रविवार तड़के तीन बजकर 52 मिनट पर मेहनार रोड से गुजरी और लगभग चार बजे सहदोई बुजुर्ग गांव के पास इसकी 11 बोगियां पटरी से उतर गईं।”उन्होंने बताया कि इस दुर्घटना में तीन स्लीपर (एस 8, एस 9, एस 10) और एक एसी (बी 3) बोगी सहित 11 बोगियां पटरी से उतर गईं। कई बोगियां तो एक-दूसरे पर चढ़ गईं। इस घटना के तुरंत बाद राहत व बचाव कार्य शुरू कर दिए गए। कुमार ने बताया कि इस दुर्घटना में छह लोगों की मौत हो गई है और 36 लोग घायल हैं, जिनमें से आठ की हालत गंभीर बनी हुई है। सभी घायलों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करा दिया गया है। गंभीर रूप से घायल लोगों को पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) रेफर कर दिया गया है।

train accidnet

दुर्घटना के कारणों की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। पूर्वी जोन के चीफ कमिश्नर मोहम्मद लतीफ खान इस हादसे की जांच करेंगे। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि प्रथम दृष्टया दुर्घटना का कारण पटरी टूटी होना बताया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पटरी टूटने की घटना हालांकि दुर्घटना के बाद भी हुई हो सकती है। कुमार ने बताया कि दुर्घटना के बाद इस रेलमार्ग से चलने वाली 10 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है, जबकि आठ ट्रेनों को अन्य रेलमार्ग से चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अभी पटरी दुरुस्त होने में कुछ समय लग सकता है।

nitish kumar, cm

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने रेल हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को दुर्घटना में घायल हुए लोगों को हरसंभव मदद पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। बिहार सरकार ने मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है। इधर, रेलवे ने भी मुआवजे की घोषणा की है। रेलवे द्वारा मृतक के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये, जबकि गंभीर रूप से घायलों को एक-एक लाख और अन्य घायलों को 50-50 हजार रुपये मुआवजा देने की घोषणा की गई है।

seemanchal accident

रेलवे के एक अधिकारी के मुताबिक, दुर्घटना की सूचना के बाद रेलवे के अधिकारी और स्थानीय प्रशासन घटनास्थल पर पहुंच गए थे। रेलवे द्वारा हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिया गया है। राहत और बचाव कार्य में रेलवे, स्थानीय प्रशासन, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ की टीमें लगी हुई हैं।