दीपा कर्माकर को पूरा देश दे रहा था जहां बधाई सन्देश वहीँ पीएम मोदी ने भी लिखा एक संदेश, देखिये क्या लिखा है उसमें…

Written by: July 8, 2018 9:36 pm

नई दिल्ली। चोट के कारण दो साल बाद वापसी कर रही भारत की स्टार महिला जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने एफआईजी आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक वर्ल्ड चैलेंज कप में स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया है। दीपा यह कारनामा करने वाली वह देश की पहली जिम्नास्ट है। यह वर्ल्ड चैलेंज कप में उनका पहला पदक था।

Dipa Karmakar

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीपा करमाकर को एफआईजी आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक वर्ल्ड चैलेंज कप में स्वर्ण पदक जीतने पर बधाई दी है। दीपा ने रविवार को तुर्की के मर्सिन शहर में इस टूर्नामेंट के वॉल्ट इवेंट में स्वर्ण पदक जीता।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, “भारत को दीपा करमाकर पर गर्व है। उन्हें तुर्की के मर्सिन में हुए एफआईजी वल्र्ड चैलेंज कप के वॉल्ट इवेंट में स्वर्ण पदक जीतने के लिए बहुत बधाई। यह जीत उनकी दृढ़ता और कभी न हार मानने वाले जज्बे की मिसाल है।

त्रिपुरा की 24 वर्षीय जिम्नास्ट ने 14.150 अंकों के साथ स्वर्ण पदक पर कब्जा किया जबकि क्वॉलिफिकेशन राउंड में वह 13.400 अंकों के साथ शीर्ष पर रही थीं। यह वर्ल्ड चैलेंज कप में दीपा का पहला पदक है।

Dipa Karmakar

प्रधानमंत्री के अलावा खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने ट्वीट कर दीपा को दो साल बाद सफल वापसी करने पर शुभकामनाएं दीं।

दीपा ने बैलेंस टीम इवेंट के फाइनल में भी जगह बनाई थी लेकिन क्वॉलिफिकेशन राउंड में वह 11.850 अंकों के साथ तीसरे पायदान पर रहीं।

दीपा 2016 में रियो ओलिंपिक के वॉल्ट इवेंट में चौथे स्थान पर रही थीं। उन्हें अगस्त में इंडोनेशिया की राजधानी जर्काता में होने वाले एशियन गेम्स के लिए 10 सदस्यीय भारतीय जिम्नास्टिक टीम में भी शामिल किया गया है।