राम मंदिर पर केशव मौर्य का बड़ा बयान, कोर्ट के फैसले का इंतजार, कानून का रास्ता भी खुला

Avatar Written by: October 25, 2018 3:07 pm

नई दिल्ली। लखनऊ में चल रही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी की बैठक के बीच केशव प्रसाद मौर्य का बड़ा बयान आया है। केशव मौर्य ने कहा कि राम मंदिर पर हमारा रुख बिल्कुल साफ है। हम न्यायालय के फैसले का इंतजार कर रहे हैं, 29 अक्टूबर से रोजाना सुनवाई होनी है। ऐसे में हमें पूरी उम्मीद है कि फैसला जल्द से जल्द आएगा।इसके अलावा यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने ये भी कहा कि राम मंदिर बनाने के लिए अभी भी हमारे लिए कानून का विकल्प खुला है। हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट में इसको लेकर जल्द सुनवाई शुरू होगी और फैसला भी जल्द ही आ जाएगा। साथ ही ये भी साफ किया कि राम मंदिर तो जरूर बनेगा, अब रास्ता चाहे जो भी हो।उपमुख्यमंत्री बोले कि अगर कोर्ट से बाहर समझौते से भी बात होती है तो वह इसके लिए तैयार हैं, लेकिन कानून लाकर मंदिर बनाने का विकल्प भी खुला ही है। जब उनसे संघ की बैठक के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि RSS के द्वारा बुलाई गई बैठक के बारे में बीजेपी के नेताओं को बोलने का अधिकार नहीं है। डिप्टी सीएम ने कहा कि इस बैठक में क्या मुद्दे रखे गए हैं, किन विषयों पर चर्चा हुई, यह सिर्फ आरएसएस ही बता सकता है बीजेपी के लोग अगर बताएंगे तो यह अनुशासनहीनता के दायरे में आता हैअयोध्या में राम मंदिर-मस्जिद मुद्दे पर बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चे के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में जमकर हंगामा हो गया। बैठक उस समय हंगामेदार हो गया जब बुक्कल नवाब ने मोर्चे के मंच से बाबरी मस्जिद पर सवाल उठाए तो कई लोगों ने इसका विरोध किया। हाल ही में समाजवादी पार्टी से बीजेपी में आए बुक्कल नवाब ने बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाया और कहा कि वहां पर नमाज नहीं की जा सकती क्योंकि वह विवादित जगह है अगर मस्जिद बन भी जाए तो वहां नमाज कौन पढ़ेगा?Amit Shahसंघ-बीजेपी की इस बैठक में हिस्सा लेने के लिए भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह भी लखनऊ पहुंचे हुए हैं। बुधवार को संघ के सामने बीजेपी अध्यक्ष ने राम मंदिर पर अपना स्टैंड रखा।

Support Newsroompost
Support Newsroompost