पश्चिम बंगाल: रथयात्रा की अनुमति मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मांगा ममता सरकार से जवाब

Avatar Written by: January 8, 2019 12:48 pm

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में रथयात्रा को लेकर भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने पश्चिम बंगाल सरकार से जवाब मांगा है। इस मामले में मंगलवार को सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट की एक पीठ ने रथयात्रा की अनुमति को लेकर राज्य सरकार से जवाब मांगा।

ज्ञात हो कि भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई ने रथयात्रा को लेकर कलकत्ता उच्च न्यायालय की खंडपीठ के फैसले को चुनौती दी थी, जिसमें रथयात्रा की अनमुति देने से इनकार कर दिया गया था।

सुप्रीम कोर्ट में न्यायमूर्ति एस के कौल की अध्यक्षता वाली पीठ ने भाजपा प्रदेश इकाई द्वारा निकाली जा रही लोकतंत्र बचाओ रैली के लिए एक संशोधित योजना भी जमा करने को कहा जिस पर पश्चिम बंगाल सरकार विचार कर सके।

इससे पहले पश्चिम बंगाल में निकलने वाली भारतीय जनता पार्टी रथयात्रा के मामले को लेकर देश की सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई थी। दरअसल कलकत्ता हाईकोर्ट की दो जजों की पीठ ने बीजेपी की इस यात्रा पर रोक लगा दी थी, जिसके खिलाफ बीजेपी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई थी।

Prime Minister Narendra Modi and BJP President Amit Shah

जानकारी के लिए बता दें कि भारतीय जनता पार्टी को पश्चिम बंगाल में कुल 3 रथयात्राएं निकालनी थीं। इनमें पहली 7 दिसंबर को कूचबिहार से, दूसरी 9 दिसंबर को 24 परगना से और तीसरी 14 दिसंबर को बीरभूमि से, लेकिन पहले पश्चिम बंगाल सरकार की मनाही और फिर हाई कोर्ट की रोक के कारण यात्रा निकल ही नहीं पाई थी।

Support Newsroompost
Support Newsroompost