तो इसलिए शरद पवार नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

Written by: October 7, 2018 10:18 am

नई दिल्ली। महाराष्ट्र की राजनीति के दिग्गज नेता और केंद्र में कई विभागों के मंत्री रह चुके एनसीपी प्रमुख शरद पवार 2019 का चुनाव नहीं लड़ेंगे। हालांकि उन्होंने 2014 में ही इस बात का ऐलान किया था कि वे अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे, लेकिन पिछले कुछ दिनों से कयास लगाए जा रहे थे कि शरद पवार 2019 में फिर चुनावी मैदान में उतरेंगे।

Sharad Pawar
शरद पवार नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

बता दे, एनसीपी नेताओं की पुणे में चली दो दिन की बैठक में पवार ने चुनाव न लड़ने का ऐलान किया। पार्टी के वरिष्ठ नेता जितेंद्र अह्वाड ने बैठक के बारे में पत्रकारों को बताया कि पार्टी नेताओं ने पवार से आगे भी चुनाव लड़ने का आग्रह किया लेकिन उन्होंने नकार दिया।

वहीं शरद पवार के चुनाव न लड़ने का फैसले के बारे में उनके भतीजे अजीत पवार ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा, पवार साहब हमारे सुप्रीम लीडर हैं।

वे 78 साल के हो चुके हैं और उन्हें लगता है कि आगे अब चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। पुणे में कुछ पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनसे चुनाव लड़ने का आग्रह किया जिसे उन्होंने ठुकरा दिया और स्पष्ट कर दिया कि किसी और उम्मीदवार को आगे लाना चाहिए।

शरद पवार फिलहाल राज्यसभा के सदस्य हैं और आगे भी रहने की संभावना है। एनसीपी की बैठक इसलिए आयोजित की गई थी ताकि आम चुनाव में संसदीय सीट पर उम्मीदवारों का फैसला किया जा सके। पवार भी बैठक में मौजूद थे और उन्होंने उन सभी 21 सीटों की समीक्षा की जिसपर 2014 में पार्टी ने चुनाव लड़ा था। साल 2014 के संसदीय चुनाव में महाराष्ट्र की 48 सीटों पर कांग्रेस ने 27 और एनसीपी ने 21 सीटों पर चुनाव लड़ा था। एनसीपी को 4 सीटों पर और कांग्रेस को दो सीटों पर जीत हासिल हुई थी।