भगोड़े विजय माल्या को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, ब्रिटेन ने जारी किया ALERT

Avatar Written by: September 19, 2018 2:37 pm

नई दिल्ली। भगोड़े विजय माल्‍या को लेकर एक और बड़ा खुलासा हुआ है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, विजय माल्‍या ने स्विट्जरलैंड के एक बैंक में 170 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए थे, इस पर ब्रिटेन की वित्‍तीय खुफिया इकाई ने 28 जून 2017 को इसकी जानकारी सीबीआई और ईडी को दी थी। जिसके बाद माल्‍या के खिलाफ 13 कर्जदाता बैंकों ने कार्रवाई शुरू की और भारत के साथ-साथ ब्रिटेन में उसकी संपत्ति जब्‍त की गई।vijay mallyaरिपोर्ट के मुताबिक, नवंबर 2017 में माल्या पर वैश्विक जब्‍ती आदेश लागू किया गया था। इंडियन एक्‍सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, सीबीआई और ब्रिटेन के जांच अधिकारियों के बीच लंदन में एक बैठक भी हुई थी। उसके बाद ही माल्‍या पर शिकंजा कसा गया। ब्रिटेन के अधिकारियों ने ही कहा था कि माल्‍या को अपनी संपत्ति बेचने से रोका जाए, क्योंकि 17 कर्जदाताओं के संघ की अगुवाई करने वाले भारतीय स्टेट बैंक के मुताबिक माल्या पर 7 हजार करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज है, जो बकाया मिलाकर 10 हजार करोड़ रुपए के आसपास पहुंच गया है।
vijay mallyaएसबीआई ने 5 जुलाई, 2018 को कहा कि अब माल्‍या की ब्रिटेन और वेल्‍स स्थित संपत्ति जब्‍त की जाएंगी। बैंकों का कहना है कि माल्‍या के खिलाफ चल रहे मामले में हाईकोर्ट एनफोर्समेंट अफसर की तैनाती की जानी चाहिए, जो माल्‍या की चल संपत्ति को बेच सके। कोर्ट के आदेश के मुताबिक, ‘हाईकोर्ट एंफोर्समेंट ऑफिसर और उनके तहत काम करने वाले एजेंट माल्‍या से जुड़े सामान की तलाश और उस पर नियंत्रण के लिए लेडीवॉक, क्‍वीन हू लेन, तेविन, वेलविन और ब्रेंबल लॉज में प्रवेश कर सकते हैं। कोर्ट ने ये भी कहा है कि हाईकोर्ट एंफोर्समेंट ऑफिसर और उनके तहत काम करने वाले एजेंट जरूरत पड़ने पर संपत्ति में घुसने के लिए ताकत का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं।
uk courtमाना जा रहा है कि अब ब्रिटेन की कोर्ट के आदेश से भारतीय एजेंसियों को भी राहत मिलेगी। भारतीय एजेंसियां लगातार ब्रिटेन कोर्ट में माल्या की संपत्ति जब्त करने के लिए अर्जियां दे रही हैं। एफोर्समेंट अधिकारी जांच के दौरान लंदन पुलिस की भी मदद ले सकेंगे।

Support Newsroompost
Support Newsroompost