शी, पुतिन ने एक-दूसरे को नववर्ष की शुभकामनाएं दी

Written by: December 31, 2018 11:07 am

बीजिंग। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को एक-दूसरे के नववर्ष की शुभकामनाएं दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, पुतिन को अपने बधाई संदेश में शी ने कहा कि चीन और रूस के संबंधों में वर्ष 2018 का विशेष महत्व रहा है और दोनों देशों ने अपने महत्वपूर्ण घरेलू राजनीतिक एजेंडा को आसानी से पूरा किया और चीन-रूस संबंधों के लिए एक नए युग की शुरुआत की।

putin and jinping

शी ने कहा कि साल के दौरान, चीन और रूस ने लगातार उच्च-स्तरीय आदान-प्रदान देखा, आपसी राजनीतिक विश्वास को गहरा किया और विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय व्यावहारिक सहयोग की उपलब्धियों को देखा। चीनी राष्ट्रपति ने कहा कि वर्ष 2018 में चीन-रूस स्थानीय सहयोग और विनिमय कार्यक्रम सुचारू रूप से आगे बढ़ा है।

उन्होंने कहा कि दोनों देशों ने अंतर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय मामलों में सक्रिय रूप से सहयोग किया और अंतर्राष्ट्रीय शांति और स्थिरता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। वर्ष 2019 में चीन और रूस के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना को 70 साल पूरे हो जाएंगे।

putin and jinping

वहीं, अपने बधाई संदेश में, पुतिन ने नए साल में शी और चीन के लोगों के लिए खुशी और अच्छे स्वास्थ्य की शुभकामनाएं दी। पुतिन ने कहा कि 2018 में, रूस-चीन समन्वय की व्यापक रणनीतिक साझेदारी पर्याप्त राजनीतिक संवादों और दोतरफा व्यापार के विस्तार के साथ एक अभूतपूर्व स्तर पर पहुंच गई।

उन्होंने कहा कि चीन-रूस स्थानीय सहयोग और विनिमय का वर्ष सफल रहा है। दोनों देशों ने प्रमुख वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों को हल करने के लिए अच्छा सहयोग किया।

रूसी संघ के राष्ट्रपति ने विश्वास जताते हुए कहा कि दोनों पक्ष द्विपक्षीय और बहुपक्षीय मामलों में प्रभावी सहयोग जारी रखने के अवसर का लाभ उठाएंगे। चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग और उनके रूसी समकक्ष दिमित्री मेदवेदेव ने भी सोमवार को एक-दूसरे को नए साल की शुभकामनाएं दीं।

अपने संदेश में ली ने कहा कि चीन दोनों देशों के साझा विकास को सुविधाजनक बनाने के लिए व्यापार, ऊर्जा, वित्त, प्रौद्योगिकी, कृषि, मानविकी और अन्य क्षेत्रों में रूस के साथ सहयोग को बढ़ावा देना चाहेगा।

वहीं, मेदवेदेव ने कहा कि रूस ने चीनी और रूसी सरकारों के प्रमुखों के बीच 23वीं नियमित बैठक की उपलब्धियों को बहुत महत्व दिया है, और विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ावा देने के लिए चीन के साथ काम करने के लिए तैयार है।