कोहली ने दिए संकेत, बिना बदलाव के उतर सकता है भारत

288
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लंदन। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच की पूर्वसंध्या पर संकेत दिए हैं कि रविवार को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले अहम मैच में भारतीय टीम बिना किसी बदलाव के उतर सकती है। दोनों टीमें रविवार को द ओवल मैदान पर खिताबी जंग करेंगी।

सेमीफाइनल मैच में हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या को बांग्लादेशी बल्लेबाज तमीम इकबाल और मुश्फीकुर रहीम ने मारा था लेकिन कप्तान कोहली ने इस युवा खिलाड़ी का बचाव किया है और उन्हें एक पूर्ण खिलाड़ी बताया है।

मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में कोहली ने कहा, “हम ज्यादा बदलावों के बारे में नहीं सोच रहे हैं क्योंकि मैं किसी भी दिन हार्दिक जैसे खिलाड़ी का साथ दे सकता हूं जो इंग्लैंड की परिस्थति में टीम में अच्छा संतुलन प्रदान करते हैं। वह गेंद से प्रभावी साबित हो सकते हैं और बल्ले से बेहतरीन योगदान दे सकते हैं।”

अंतिम एकादश में बदलाव की संभावनओं के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “वह ऐसे खिलाड़ी हैं कि जब आपको एक ओवर में आठ रन की औसत चाहिए और आपके पास विकेट नहीं हैं, वह उस स्थिति में से मैच निकाल सकते हैं।”

कोहली से जब पूछा गया कि क्या पहले मैच में पाकिस्तान को 124 रनों से मात देने का फायदा उन्हें इस मैच में मिलेगा। कोहली ने इस पर कहा, “इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि एक टीम दूसरी टीम के खिलाफ हमेशा जीतेगी या हारेगी। यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कैसा खेलते हो और अपना सौ फीसदी देते हो। हम उन चीजों पर ध्यान दे रहे जो हमारे नियंत्रण में हैं। इसलिए हमें अतीत के आंकड़ों में जाने की जरूरत नहीं है।”

उन्होंने कहा, “पहले मैच का मुझे इस मैच से कोई संबंध नहीं दिखता है। आप नहीं कह सकते की कौनसी टीम टूर्नामेंट की कैसी शुरुआत करेगी। कई टीम अच्छी शुरुआत करती हैं लेकिन बाद में असफल हो जाती हैं। कुछ टीमों के पास बड़े खिलाड़ी नहीं होते हैं लेकिन वह शानदार वापसी करती हैं जैसा की पाकिस्तान ने किया।”

उन्होंने कहा, “हर कोई जानता है कि पाकिस्तान की टीम में कितनी प्रतिभा है। अपने दिन वह किसी को भी मात दे सकती है।”

कोहली ने कहा, “हम इस बात को जानते हैं लेकिन हम न ज्यादा लापरवाह हैं और न ही किसी तरह के घमंड में। हमारे लिए यह जरूरी है कि हम अपनी टीम में संतुलन बनाए रखें।”

कोहली को उम्मीद है कि यह मैच अच्छा होगा। उन्होंने कहा, “यह अच्छा मैच होगा। दोनों टीमें जीतना चाहती हैं। सभी खिलाड़ी अपना 120 फीसदी देंगे।”

कोहली ने इस बात की झलक दी कि वह बड़े मैचों के लिए किस तरह से तैयारी करते हैं लेकिन उन्होंने कहा कि हर दिन हर खिलाड़ी सफल या असफल नहीं हो सकता।

उन्होंने कहा, “मैं किसी के वीडियो ज्यादा देखने में यकीन नहीं करता हूं। मैं अपने तरीके से सर्वश्रेष्ठ तैयारी करता हूं। मैं अपनी योग्यताओ में भरोसा करता हूं। अगर मुझे लगता है कि मैं तकनीकी रूप से किसी गेंदबाज पर आक्रमण कर सकता हूं तो मैं करता हूं। मैं अतिरिक्त दबाव नहीं लेता हूं।”

कोहली ने कहा, “आप किसी के खिलाफ खेले हो या नहीं लेकिन यह किसी तरह की गारंटी नहीं देता है। जिन गेंदबाजों के खिलाफ आप सीरीज में खेल रहे हो और दो मैचों में उन पर आक्रमण किया है तीसरे मैच में वह आप पर हावी हो सकता है। इसलिए यह हर गेंद को उसके हिसाब से खेलने पर निर्भर करता है।”