होली पर भाग्योदय, धन प्राप्ति और आर्थिक समृद्धि के लिए करें ये उपाय

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, होली के दिन किए गए उपाय बहुत ही जल्दी शुभ फल प्रदान करते हैं। ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार होली का दिन तांत्रिक क्रियाओं के लिए बहुत ही लाभकारी होता है। इस दिन अभिमंत्रित और आमंत्रित कर जडी-बूटी घर लाई जाती है। कई प्रकार के मंत्रों की सिद्धियां भी की जाती हैं।

Written by पंडित दयानन्द शास्त्री March 13, 2019 11:47 am

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, होली के दिन किए गए उपाय बहुत ही जल्दी शुभ फल प्रदान करते हैं। ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार होली का दिन तांत्रिक क्रियाओं के लिए बहुत ही लाभकारी होता है। इस दिन अभिमंत्रित और आमंत्रित कर जड़ी-बूटी घर लाई जाती है। कई प्रकार के मंत्रों की सिद्धियां भी की जाती हैं। हिन्दू धर्म में होली और दीपावली दो ऐसे त्योहार हैं जिनका सभी बेसब्री से इन्तजार करते हैं। कुछ लोग इनका इंतजार टोने-टोटकों को सिद्ध करने के लिए भी करते हैं। पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार जो टोटके ओर उपाय होली और दीपावली के शुभ समय में किए जाते हैं वह अपना प्रभाव अगले दिन से ही दिखाना शुरू कर देते हैं।

यदि कोई इन टोटकों को पूरी श्रद्धा और विश्वास के साथ करता है तो उसको इसका असर जरूर दिखता है। इनका चमत्कार केवल उन्हीं लोगों को देखने को नहीं मिलता है जो कहीं न कहीं इन पर शंका करते हैं और केवल इन टोटकों को परखने के लिए ही करते हैं।

होलिका दहन वाले दिन प्रातः काल में 108 मखानों की एक माला बनाकर मन्दिर में लक्ष्मी जी को चढ़ाएं आर्थिक समृद्धि बढ़ेगी।

यदि व्यापार या नौकरी में उन्नति न हो रही हो, तो 21 गोमती चक्र लेकर होलिका दहन की रात में शिवलिंग पर चढ़ा दें। इससे बिजनेस में फायदा होने लगेगा।

होली पर किसी गरीब को भोजन अवश्य कराएं। इससे आपकी मनोकामना पूरी होगी।

यदि राहु के कारण परेशानी है तो एक नारियल का गोला लेकर उसमें अलसी का तेल भरें। उसी में थोड़ा सा गुड़ डालें और इस गोले को जलती हुई होलिका में डाल दें। इससे राहु का बुरा प्रभाव समाप्त हो जाएगा।

होली के दिन सवाकिलो चावल की खीर बनाकर कुष्ठाश्रम में दें धन प्राप्ति और समृद्धि बढ़ेगी।

होलिका दहन के समय एक सूखे गोले में बूरा भरकर उसे जलती हुई होली की अग्नि में रख दें धन प्राप्ति और समृद्धि बढ़ेगी।

होलिका दहन होने के बाद रात्रि में घर के पूजा स्थल पर बैठकर श्री सूक्त का ग्यारह बार पाठ करें धन समृद्धि की प्राप्ति होगी।

होलिका दहन वाले दिन संध्या के समय अपने घर की उत्तर दिशा में एक शुद्ध घी का अखण्ड ज्योति दिया जलाएं जो रात भर जलता रहे घर में धन समृद्धि बढ़ेगी।

धन हानि से बचने के लिए होली के दिन घर के मुख्य द्वार पर गुलाल छिड़कें और उस पर दोमुखी दीपक जलाएं। दीपक जलाते समय धन हानि से बचाव की कामना करें। जब दीपक बुझ जाए तो उसे होली की अग्नि में डाल दें। यह क्रिया श्रद्धापूर्वक करें, धन हानि नहीं होगी।

घर की सुख-समृद्धि के लिए परिवार के प्रत्येक सदस्य को होलिका दहन में घी में भिगोई हुई दो लौंग, एक बताशा और एक पान का पत्ता अवश्य चढ़ाना चाहिए। साथ ही होली की 11 परिक्रमा करते हुए होली में सूखे नारियल की आहुति देनी चाहिए।

अगर किसी ने आप पर कोई टोटका किया है तो होली की रात जहां होलिका दहन हो, उस जगह एक गड्ढा खोदकर उसमें 11 अभिमंत्रित कौड़ियां दबा दें। अगले दिन कौड़ियों को निकालकर अपने घर की मिट्टी के साथ नीले कपड़े में बांधकर बहते जल में प्रवाहित कर दें। जो भी तंत्र क्रिया आप पर किसी ने की होगी वह नष्ट हो जाएगी।

यदि आपके घर में किसी भूत-प्रेत का साया है तो जब होली जल जाए, तब आप होलिका की थोड़ी-सी अग्नि अपने घर ले आएं और अपने घर के आग्नेय कोण में उस अग्नि को तांबे या मिट्टी के पात्र में रखें। सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इस उपाय से आपकी परेशानी दूर हो जाएगी।

बेरोजगार हैं तो होली की रात 12 बजे से पहले एक नींबू लेकर चौराहे पर जाएं और उसके चार टुकड़े कर चारों दिशाओं में फेंक दें। वापिस घर आ जाएं किन्तु ध्यान रहे, वापिस आते समय पीछे मुड़कर न देखें।

यदि आपका पैसा कहीं फंसा है तो होली के दिन 11 गोमती चक्र हाथ में लेकर जलती हुई होलिका की 11 बार परिक्रमा करते हुए धन प्राप्ति की प्रार्थना करें..फिर एक सफेद कागज पर उस व्यक्ति का नाम लाल चन्दन से लिखें जिससे पैसा लेना है फिर उस सफेद कागज को 11 गोमती चक्र के साथ में कहीं गड्ढा खोदकर दबा दें। इस प्रयोग से धन प्राप्ति की संभावना बढ़ जाएगी।

यदि आपको कोई अज्ञात भय रहता है तो होली पर एख सूखा जटा वाला नारियल, काले तिल व पीली सरसों एक साथ लेकर उसे सात बार अपने सिर के ऊपर उतार कर जलती होलिका में डाल देने से अज्ञात भय समाप्त हो जाएगा।

होलिका दहन के दूसरे दिन होलिका की राख को घर लाकर उसमें थोड़ी सी राई व नमक मिलाकर रख लें। इस प्रयोग से भूत-प्रेत या नजर दोष से मुक्ति मिलती है।

शत्रुओं से छुटकारा पाने के लिए होलिका दहन के समय 7 गोमती चक्र लेकर भगवान से प्रार्थना करें कि आपके जीवन में कोई शत्रु बाधा न डालें। प्रार्थना के पश्चात पूर्ण श्रद्धा व विश्वास के साथ गोमती चक्र जलती हुई होलिका में डाल दें।

शीघ्र विवाह के लिए होली के दिन किसी शिव मंदिर जाएं और अपने साथ 1 साबूत पान, 1 साबूत सुपारी एवं हल्दी की गांठ रख लें। पान के पत्ते पर सुपारी और हल्दी की गांठ रखकर शिवलिंग पर अर्पित करें। इसके बाद पीछे देखे बिना अपने घर लौट आएं। यही प्रयोग अगले दिन भी करें। इसके साथ ही समय-समय पर शुभ मुहूर्त में यह उपाय करते रहें । जल्दी ही विवाह के योग बन जाएंगे।

होली से शुरू करके बजरंग बाण का 40 दिन तक नियमित पाठ करने से हर मनोकामना पूर्ण हो सकती है।

अपने हाथो से गोबर के कंडे बनाएं और इन कंडो को बहनें अपने भाई के ऊपर से 7 बार वार लें। इसके बाद ये कंडें होलिका दहन में डालें, इससे भाई की बुरी नज़र से रक्षा होगी।

होलिका दहन के समय जो अंगार जलती है, उसमें पापड़ सेंककर खाएं। इससे शरीर को कई स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं।

होलिका दहन के समय होलिका की 7 परिक्रमा करें। इससे अक्षय पुण्य प्राप्त होता हैं।

छोटी होली की रात में एक सफ़ेद वस्त्र में सवासोग्राम साबुत चावल बांधकर अपने पूजास्थल पर रखें और ॐ श्रीम श्रिये नमः का 108 बार जाप करें अगले दिन इस चावल की पोटली को आपकी तिजोरी में रख ले धन समृद्धि बढ़ेगी।

छोटी होली के दिन एक रोटी पर पॉँच बताशे और चाँदी का वर्क रखकर गाय को खिलाएं जीवन में धन समृद्धि बढ़ेगी।

होलिका दहन की रात एक शंख में गंगाजल भरकर अपने पूजा स्थल में रख दें और अगले दिन सुबह अपने पूरे घर में इस गंगाजल का छिड़काव करें घर में समृद्धि बढ़ेगी।

छोटी होली के दिन एक स्फटिक श्री यन्त्र लाकर गंगाजल से अभिषेक करके अपने पूजा स्थल में स्थापित करें अचिर धन समृद्धि प्राप्त होगी।

होलिका दहन के समय धन प्राप्ति की कामना करते हुए सफ़ेद रंग की मिठाई जलती अग्नि में रख दें धन समृद्धि प्राप्त होगी।

Facebook Comments