सेना और पुलिस में नौकरी चाहिए तो पहले मंगल को प्रसन्न करने के ये उपाय करें

ज्योतिष शास्त्र के नियमों सूत्रों और सिद्धांतों के अनुसार, मंगल को योद्धा और लड़ाकू बताया गया है। सेना के जवानों में इसका प्रत्यक्ष वास दिखाई देता है।

ज्योतिष शास्त्र के नियमों सूत्रों और सिद्धांतों के अनुसार, मंगल को योद्धा और लड़ाकू बताया गया है। सेना के जवानों में इसका प्रत्यक्ष वास दिखाई देता है। साथ-साथ नक्सली या आतंकवादियों में भी। यही लोग आपस में लड़ते देखे जा रहे हैं। दुनिया में प्राचीन काल और मध्य काल का तो इतिहास ही युद्ध का था।

आज भी बहुत सारे युवकों को सेना और पुलिस की नौकरी का चार्म होता है। जिन्हें जीवन में अड्वेंचर का शौक होता है। वो अपने पास हथियार रखते हैं, चाहे सही काम के लिए या बुरे काम के लिए।

दुनिया के सारे हथियार में भी मंगल का ही अधिपत्य है। मंगल में एक ख़ासियत और है, ये जातक को युवा अवस्था में ही सम्मान और धन संपदा से नवाज देता है।

देवताओं को भी शिव-पार्वती की विवाह के लिए प्रयास इसलिए करना पड़ा था की शिव का पुत्र परम यौद्धा होगा और वही ताड़का सुर का वध कर सकेगा। वही पुत्र कुमार, कार्तिक आदि नामों से प्रसिद्ध हुआ।

इसलिए मंगल ग्रह का आदि देव कार्तिकेय है। जो अविवाहिक है। मतलब सेक्स के चक्रम से दूर है। एक और हैं, मंगल के ईष्ट देव हनुमान जी, वो भी ब्रह्मचारी हैं और सेक्स के मकड़-जाल से दूर रहे। और दोनों हीं परम यौद्धा भी हैं।

मतलब सेना या पुलिस के क्षेत्र मे कॅरियर बनाने वाले युवक के लिए मंगल ग्रह की अनुकूलता बहुत ज़रूरी है। और कोई ज़रूरी नहीं की ये आपके कुंडली में शुभ हो हीं। बल्कि मंगल को शुभ बनाया जा सकता है।

1)25 वर्ष तक सेक्स, नशे से दूर रहें। ये कोई सामान्य उपाय नहीं है, बहुत सिद्ध उपाय है। हमारे संस्कृति का हिस्सा है ये 25 वर्ष तक ब्रह्मचर्य जो जीवन में उर्जा का संचार करता है शरीर को पुष्ट रखता है। मतलब इन उपायों से मंगल मजबूत हो जाएगा।

2)हनुमान जी को नित्य श्री-राम का उद्घोष सुनाएं, मतलब अपने संवाद की शुरुआत जय श्री राम से करें, हनुमान मंदिर में श्री राम का धुन गाएं।

3)कार्तिकेय के लिए 5 मुख का घी का दीप जलाएं।

4)देवी मंगला की आराधना करें।

5)मंगलवार को 5 साल के बालकों को बादाम, छुहारा..आदि दें। बंदर को भी ये चीजें खिलाएं।

6)कुंडली दिखाकर मूंगा रत्न पहन सकते हैं।