जानें शनि जयंती के 15 सरल टोटके, हर संकट को रोके

शनि जयंती को आक के पौधे पर 7 लोहे की कीलें चढ़ाएं। काले घोड़े की नाल या नाव की कील से बनी लोहे की अंगूठी मध्यमा उंगली में शनि जयंती को सूर्यस्त के समय पहनें।

Written by पंडित दयानन्द शास्त्री June 22, 2019 12:32 pm

शनि जयंती सबसे सुनहरा अवसर है शनि संबंधी सरल और पवित्र टोटके आजमाने के लिए। यह सरलतम टोटके शुभ और हानिरहित हैं।

shani

शनि जयंती को काले रंग की चिड़िया खरीदकर उसे दोनों हाथों से आसमान में उड़ा दें। आपकी दुख-तकलीफें दूर हो जाएंगी।

शनि जयंती के दिन लोहे का त्रिशूल महाकाल शिव, महाकाल भैरव या महाकाली मंदिर में अर्पित करें। शनि दोष के कारण विवाह में विलंब हो रहा हो, तो 250 ग्राम काली राई, नए काले कपड़े में बांधकर पीपल के पेड़ की जड़ में रख आएं और शीघ्र विवाह की प्रार्थना करें।

पुराना जूता शनि जयंती के दिन चौराहे पर रखें।

आर्थिक वृद्धि के लिए आप सदैव शनिवार के दिन गेंहू पिसवाएं और गेहूं में कुछ काले चने भी मिला दें।

शनि जयंती को 10 बादाम लेकर हनुमान मंदिर में जाएं। 5 बादाम वहां रख दें और 5 बादाम घर लाकर किसी लाल वस्त्र में बांधकर धन स्थान पर रख दें।

shani jayanti

शनि जयंती के दिन बंदरों को काले चने, गुड़, केला खिलाएं।

शनि जयंती पर सरसों के तेल का छाया पात्र दान करें।

बहते पानी में नारियल विसर्जित करें।

शनि जयंती को काले उड़द पीसकर उसके आटे की गोलियां बनाकर मछलियों को खिलाएं

शनि जयंती को आक के पौधे पर 7 लोहे की कीलें चढ़ाएं। काले घोड़े की नाल या नाव की कील से बनी लोहे की अंगूठी मध्यमा उंगली में शनि जयंती को सूर्यस्त के समय पहनें।

shani jayanti

शनि पूजा में रखें यह सावधानी, वरना होंगे नाराज शनिदेव

शमशान घाट में लकड़ी का दान करें।

शनि जयंती को सरसों का तेल हाथ और पैरों के नाखूनों पर लगाएं।

शनि जयंती से आरंभ कर चीटिंयों को 7 शनिवार काले तिल, आटा, शक्कर मिलाकर खिलाएं।

शनि जयंती की शाम पीपल के पेड़ के नीचे तिल या सरसों के तेल का दीपक जलाएं।

शनि की ढैया से ग्रस्ति व्यक्ति को हनुमान चालीसा का सुबह-शाम जप करना चाहिए।