बसंत पंचमी के शुभ अवसर पर गलती से भी ना करें ये 5 काम, रखें मां सरस्वती को प्रसन्न

बसंत पंचमी का दिन ज्ञान की देवी मां सरस्वती को समर्पित है। इस दिन मां सरस्वती की पूजा का विधान है। सरस्वती मां को ज्ञान, कला और संगीत की देवी कहा जाता है।

Written by Newsroom Staff February 10, 2019 1:54 pm

नई दिल्ली। बसंत पंचमी का दिन ज्ञान की देवी मां सरस्वती को समर्पित है। इस दिन मां सरस्वती की पूजा का विधान है। सरस्वती मां को ज्ञान, कला और संगीत की देवी कहा जाता है। मान्यता है कि बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा करने से बुद्धि और ज्ञान बढ़ता है। इस दिन स्नान का भी खास महत्व माना जाता है। लेकिन बसंत पंचमी के दिन कुछ कार्यों को वर्जित माना जाता है। इसलिए इस दिन कुछ चीजों को भूलकर भी नहीं करना चाहिए।

saraswati new

बसंत पंचमी के दिन पीले रंग के कपड़े पहनने का अधिक महत्व होता है। इस दिन भूलकर भी काले और लाल रंग के कपड़े नहीं पहनने चाहिए।

yellow

इस दिन मांस मछली से दूर ही रहें। केवल सात्विक भोजन ही करें। बसंत पंचमी के दिन शराब का सेवन करने से भी बचना चाहिए।

yellow 1

बसंत पंचमी फसल और हरियाली का त्योहार है। इस दिन कभी भी फसल नहीं काटना चाहिए। इस दिन घर में मौजूद पेड़ों को भी किसी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए।

saraswati puja 2

बसंत पंचमी के दिन स्नान किए बिना कोई भी कार्य न करें। सुबह उठकर सबसे पहले स्नान कर के मां सरस्वती की पूरे विधि-विधान के साथ पूजन करें और उसके बाद ही कुछ खाएं।

saraswati puja

इस दिन गुस्सा करने से बचें। अपनी वाणी पर काबू रखें। अनजाने में भी किसी का अपमान न करें। दूसरों के साथ खुद के लिए भी कुछ गलत बोलने से बचें।

Facebook Comments