हटेगी धारा 370, होगा राम मंदिर का एलान? किसी विवादास्पद निर्णय का संकेत दे रहे हैं सितारे।

आज 27 जून की अलस्सुबह जब लोगों की नींद खुली होगी, ऊर्जा के पुंज मंगल की चाल उलट चुकी होगी। मंगल सुबह पौने तीन बजे वक्री हो चुका है। वक्री यानि उलटा। प्रख्यात आध्यात्मिक गुरु सदगुरु स्वामी आनन्द जी ने लंदन से नभाटा को बताया कि अपने कट्टर शत्रु शनि के घर में मंगल वैसे भी किसी सीधे कर्म के लिए नहीं जाना जाता है।

zodiac ग्रह योग किसी गंभीर स्थिति का स्पष्ट संकेत दे रहे हैं। स्थिति तो पहले से ही बेहतर नहीं थी। उस पर आज करेला नीम चढ़ा हो गया हो गया। क्योंकि इस समय शनि ज्ञान के देव वृहस्पति की राशि धनु में, वृहस्पति अपने धुरविरोधी शुक्र की राशि तुला में और बुध व राहु शुक्र के साथ शत्रु चंद्रमा की राशि कर्क में पहले से ही मौजूद होकर हालात को चिन्ताजनक बनाए हुए हैं। 2 मई से मंगल मकर राशि में गतिशील हैं और आगामी 5 नवंबर तक मकर राशि में रहेंगे। उसके बाद मंगल देव शनि की दूसरी राशि कुंभ में प्रविष्ट होंगे। जहां वो जनवरी, 2019 तक विराजेंगे। मंगल की टेढ़ी चाल 27 जून से 26 अगस्त तक रहेगी।

इस दरमियान जान माल की हानि का अनुमान है। व्यापारियों के लाभ में कमी होगी। आग से भारी क्षति हो सकती है। ज़मीन की अंदर के परिवर्तन से कष्ट प्राप्त होगा। जिससे इमारतों के ढहने, सड़कों के धंसने, भूकंप या सुनामी स्थितियां निर्मित हो सकती हैं। प्राकृतिक आपदायें सर उठायेंगी। सड़क, रेल और वायु दुर्घटनाओं के साफ़ संकेत मिल रहे हैं। किसी बड़े व्यक्ति पर गम्भीर आरोप से लोग सन्न रह जायेंगे। आध्यात्मिक और धार्मिक नेताओं के लिए समय चिन्ताजनक है। किसी बड़े नेता, अभिनेता या नामचीन व्यक्ति की असामयिक मृत्यु या दुर्घटना से लोग सकते में रह जायेंगे।

अर्थव्यवस्था का आंकड़ा चाहे जो भी हो, बाज़ार, आम जन और कारोबारी सब कसमसाएंगे। हैरान नज़र आएंगे। एक साथ कई आंदोलन सरकार की पेशानी पर बल डालेंगे। लोगों के ब्लडप्रेशर और आंखों के कष्ट में सहसा वृद्धि होगी। क़र्ज़ हैरान करेगा। बैंकों की स्थिति और चरमराएगी। उनकी और सरकार की अजीबोग़रीब हरकतें हंसी उड़ावायेगी। पक्ष या विपक्ष दोनों के नेता बौखलाये नज़र आयेंगे। सरकार के नुमाइन्दों के अजीब अजीब बयान हैरान करेंगे। आतंकी मुठभेड़ में वृद्धि होगी। आतंकियों की भी कमर टूटेगी और सैनिकों की शहादत में बढ़ोत्तरी होगी।

खिलाड़ियों और सेहत के फ़िक्रमन्दों के लिए भी वक़्त मुफ़ीद नहीं है। अपनी सटीक भविष्यवाणी से चौंका देने के लिए मशहूर इस आध्यात्मिक चिन्तक को लगता है कि ऐसे ग्रह योग में सरकार कोई बड़ा विवादास्पद ऐलान कर देती है। सरकार अपने किसी फ़ैसले से लोगों को चौंका देगी। उत्तर के किसी विवादित राज्य से सम्बंधित कोई बड़ा फ़ैसला हैरत में डालेगा। उनकी इस भविष्यवाणी को अनुच्छेद 370 और राम मंदिर से जोड़ कर देखा जा सकता है।

भाद्रपद कृष्ण प्रतिपदा सोमवार यानि 27 अगस्त 2018 की रात्रि पौने आठ बजे मंगल के मार्गी होने से परिस्थितियों की तीव्रता में कुछ कमी आएगी। पर जनवरी 2019 तक हालात कमोबेश ऐसे ही रहेंगे।