किसने पकड़ी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों द्वारा की गई बॉल टेंपरिंग? सहवाग ने बताई पूरी कहानी

Written by: March 26, 2018 10:13 am

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज के दौरान बॉल टेंपरिंग विवाद पर वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट किया है। उन्होंने फील्ड पर मौजूद एक कैमरामैन की तस्वीर पोस्ट की और लिखा कि ‘गौर से देखिए इस शख्स को। ऑस्कर- द कैमरामैन। इनके कैमरा से बचना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है’। दरअसल ये तस्वीर उसी कैमरामैन की है जिसने ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर कैमरून बेनक्रॉफ्ट को बॉल टेंपरिंग करते हुए पकड़ा था। 

फिल्ड पर कैमरून बेनक्रॉफ्ट को जेब से चिप जैसी चीज को निकालते हुए देखा गया था। जिसके बाद अंपायर्स को कुछ शक हुआ तो उन्होंने बेनक्रॉफ्ट से सवाल किए। जिसके बाद बेनक्राफ्ट ने अपनी जेब से कोई दूसरा पाउच निकाला जो चश्मे रखने के पैकेट जैसा लग रहा था।

virendra sehwag, former indian player

जिसके बाद अंपायर को कोई शक नहीं हुआ और गेम कॉन्टीन्यू कर दिया। कुछ देर बाद स्टेडियन में लगी स्क्रीन पर बेनक्राफ्ट का वीडियो दिखाया गया, जिसे उसी कैमरामैन ने कैप्चर किया था जिसकी तस्वीर सहवाग ने पोस्ट की। वीडियो दिखाने के बाद ही साउथ अफ्रीका के फैन्स ने हंगामा करना शुरू कर दिया।

साउथ अफ्रीका के कमेंटेटर नील थोर्प ने एक रेडियो शो में बॉल टेंपरिंग को पकड़ने का क्रेडिट उसी कैमरामैन को दिया। उन्होंने कहा कि लोकल कैमरापर्सन को लगा कि कुछ गड़बड़ हो रही है। इसलिए वो लगातार बेनक्रॉफ्ट की एक्टिविटी को फॉलो कर रहा था।

माना जा रहा है कि बेनक्रॉफ्ट ने जेब से चिप जैसी जो चीज निकली थी वो सैंडपेपर था। जिसका यूज गेंद को एक तरफ से खुरदरा करने के लिए किया गया ताकि गेंदबाजों को स्विंग मिल सके। हालांकि बेनक्रॉफ्ट ने कहा था कि वो उनके चश्में का टूटा हुआ टुकड़ा है।