लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल्स से ये तो साफ हो गया है कि बीजेपी इस बार भी सरकार बनाने जा रही है। हालांकि कई पोल्स में ये भी दावा किया गया है कि एनडीए इस बार 300 से भी अधिक सीटें जीत सकता है। ऐसे में हम आपको स्टेटवाइज बताने जा रहे हैं कि कौनसी पार्टी कितनी सीटें जीतेगी, साथ ही ये भी बता रहे हैं कि जीतने और हारने वाली पार्टियों को वोट शेयर इस बार कितना है।

लोकसभा चुनाव के बाद एग्जिट पोल्स के नतीजे काफी चौंकाने वाले हैं। ऐसे में अब सबको 23 मई को काउंटिंग का इंतजार है, जब सारे सर्वे या तथ्यों से अलग सही फैसला आएगा। फिर भी अगर एग्जिट पोल्स की माने तो आएगा मोदी ही। दिलचस्प बात ये है कि कुछ एग्जिट पोल्स में तो बीजेपी पिछली बार के अपने अबतक के सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड (282 सीट) को भी ध्वस्त कर सकती है। अकेले बीजेपी ही 300 पार कर सकती है।

लोकसभा चुनाव 2019 के आखिरी चरण का चुनाव रविवार को समाप्त हो गया। एग्जिट पोल के मुताबिक एक बार फिर एनडीए भारी बहुमत से केंद्र में सरकार बनाएगी। वोटों की गिनती के साथ ही परिणामों की घोषणा 23 मई को होगी। एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के मुताबिक हम आपको पूरी 543 सीटों का हाल बता रहे हैं।

बिहार की सीवान संसदीय सीट पर इस बार दो बाहुबलियों की पत्नियां मैदान में हैं। बता दें कि जेडीयू के टिकट पर दरौंधा की विधायक और बाहुबली अजय सिंह की पत्नी कविता सिंह पूर्व सांसद और बाहुबली मो. शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब को टक्कर दे रही हैं, जो राजद प्रत्याशी हैं।

2008 में अस्तित्व में आया पश्चिम दिल्ली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र दिल्ली की 7 संसदीय क्षेत्रों में से एक है। यहां पहली बार लोकसभा निर्वाचन के लिए 2009 में मतदान हुआ। इस संसदीय क्षेत्र में मादीपुर, राजौरी गार्डन, जनकपुरी, द्वारका, विकासपुरी, मटिआला, हरि नगर, उत्तम नगर, नजफगढ़, तिलक नगर विधानसभा क्षेत्रों को शामिल किया गया है।

इंटरनेशनल मैगजीन टाइम ने 20 मई के अपने संस्करण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कवर पर जगह दी है। इसके अलावा मोदी सरकार के कामकाज को लेकर एक आर्टिकल भी लिखा गया है। जिसमें मोदी सरकार की तीखी आलोचना की गई है। मैगजीन ने पीएम को विवादित उपाधि देते हुए उन्हें भारत को प्रमुख रुप से बांटने वाला बताया है। जिसके बाद इस लेख का हवाला देकर पीएम मोदी पर टिप्पणियां भी होने लगी हैं।

उत्तर पश्चिम दिल्ली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र दिल्ली के भारतीय राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली की 7 लोकसभा (संसदीय) निर्वाचन क्षेत्रों में से एक है। यह निर्वाचन क्षेत्र 2002 में गठित परिसीमन आयोग की सिफारिशों के परिपालन से साल 2008 में अस्तित्व में आया। बता दें कि ये निर्वाचन क्षेत्र अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित है।

लोकसभा चुनावों के बीच राहुल गांधी का इंटरव्यू भी जारी है। हाल ही में राहुल गांधी ने 2019 का पहला इंटरव्यू एनडीटीवी को दिया, फिर उसके बाद कई मीडिया संस्थानों से बातचीत का दौर जारी है। इसी बीच सोमवार को राहुल गांधी ने भिवानी में न्यूज-24 को इंटरव्यू दिया। हालांकि अबतक के उनके इंटरव्यू में खास ये रहा है कि वो बीच में ही अपने लोगों को उकसाते हुए कहते हैं चौकीदार... फिर आवाज आती है चौकीदार चोर है। और इस तरह वो आगे बात करते हैं।

राहुल गांधी ने गुरुवार को राजस्थान में एक रैली के बाद NDTV को दिए अपने एक इंटरव्यू में कांग्रेस की जीत और बीजेपी की हार का दावा किया। जिसमें राहुल गांधी ने कई सवालों के जवाब दिए, तो वहीं राहुल गांधी काफी उत्साहित दिखे। राहुल गांधी ने इंटरव्यू के बीच में ही जनता को चौकीदार शब्द से संबोधित किया, राहुल गांधी के ये शब्द बोलते ही एक आवाज आई- चौकीदार चोर है, जिसके बाद वहां जुटी भीड़ भी इसके नारे लगाने लगी।

उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र दिल्ली के भारतीय राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली की 7 लोकसभा (संसदीय) निर्वाचन क्षेत्रों में से एक है। यह निर्वाचन क्षेत्र 2002 में गठित परिसीमन आयोग की सिफारिशों के परिपालन से साल 2008 में अस्तित्व में आया। जिसके बाद 2009 में यहां पहला लोकसभा चुनाव लड़ा गया। इस सीट पर फिलहाल बीजेपी का कब्‍जा है।