Hyundai लाने वाली है उड़ने वाली कार, NASA से है खास कनेक्शन

ह्यूंदै ने अपने एयर मोबिलिटी डिविजन का हेड नासा के अनुभवी एयरोनॉटिक्स इंजीनियर डॉक्टर जयोन शिन को बनाया है। शिन हाल में नासा के एरोनॉटिक्स रिसर्च मिशन डायरेक्टरेट के प्रमुख रहे हैं।

Written by: October 2, 2019 1:48 pm

नई दिल्ली। उड़ने वाली कारें ट्रांसपोर्टेशन का भविष्य हो सकती हैं। यही वजह है कई बड़ी कंपनियां इस पर फोकस कर रही हैं। अब साउथ कोरिया की दिग्गज कार निर्माता कंपनी ह्यूंदै मोटर ग्रुप भी इसकी तैयारी कर रही है। Hyundai ने इसके लिए एक नया अर्बन एयर मोबिलिटी डिविजन लॉन्च किया है। यह डिविजन कमर्शल फ्लाइंग कार टेक्नॉलजी के डिवेलपमेंट से संबंधित है।

hyundai

ह्यूंदै ने अपने एयर मोबिलिटी डिविजन का हेड नासा के अनुभवी एयरोनॉटिक्स इंजीनियर डॉक्टर जयोन शिन को बनाया है। शिन हाल में नासा के एरोनॉटिक्स रिसर्च मिशन डायरेक्टरेट के प्रमुख रहे हैं। नासा में रहते हुए शिन सुपरसोनिक एक्स-प्लेन, यूएएस ट्रैफिक मैनेजमेंट और अर्बन एयर मोबिलटी जैसे बड़े प्रॉजेक्ट से जुड़े रहे हैं।

जयोन शिन की लीडरशिप में ह्यूंदै खुद को अर्बन एयर मोबिलिटी में मजबूती से स्थापित करना चाहती है। शिन का कहना है कि अगले 20 साल में अर्बन एयर मोबिलिटी सेक्टर का मार्केट 1.5 ट्रिलियन डॉलर होने की उम्मीद है। अर्बन एयर मोबिलिटी डिविजन दुनिया भर में बढ़ रही ट्रैफिक की समस्या के इनोवेटिव और स्मार्ट समाधान लाएगा। इन समाधान में फ्लाइंग कारें भी शामिल हैं।

Hyundai

उड़ने वाली कारों का कॉन्सेप्ट काफी पहले सामने आया था। उबर और वोलोकॉप्टर जैसी कंपनियां लंबे समय से इस पर काम कर रही है। अब ह्यूंदै भी इस उभरती इंडस्ट्री में एंट्री कर चुकी है। इससे माना जा रहा है कि अगले 10 साल में कमर्शल फ्लाइंग टैक्सी या उड़ने वाली कारें देखने को मिल सकती हैं।