मारुति के मुनाफे में 39 फीसदी की आई भारी गिरावट

ऑटो सेक्टर के लिए सितंबर का महीना भी बिक्री के लिहाज से निगेटिव रहा है। सितंबर में मारुति सुजुकी की बिक्री में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है।

Avatar Written by: October 25, 2019 1:31 pm

नई दिल्ली। इन दिनों ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री मंदी के दौर से गुजर रही है। ऐसे में नामी-गिरामी कंपनियों को भी मंदी की मार झेलनी पड़ रही है। मंदी के दौर में बिक्री काफी घटते जाने से देश की नंबर वन ऑटो कंपनी मारुति सुजुकी के सितंबर तिमाही के मुनाफे में 39 फीसदी की भारी गिरावट आई है। कंपनी द्वारा जारी तिमाही नतीजों के बाद से इसके शेयरों में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है। नतीजे आने के तत्काल बाद इसके शेयर 2.2 फीसदी टूट गए थे।

maruti suzuki 2

गौरतलब है कि मारुति द्वारा गुरुवार को जारी तिमाही नतीजों के मुताबिक जुलाई से सितंबर की तिमाही में कंपनी के मुनाफे में एक साल पहले के मुकाबले 39.2 फीसदी की गिरावट आई है। इस दौरान कंपनी को 1,358.6 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ है। जून तिमाही के मुकाबले यह 5.4 फीसदी कम है, जब कंपनी को 1,435.5 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। इन नतीजों के आने के बाद गुरुवार को मारुति सुजुकी के शेयर 2.2 फीसदी गिरकर 7,275 रुपये पर पहुंच गए थे। हालांकि इसके बाद इस शेयर में उतार-चढ़ाव जारी रहा और गुरुवार को कारोबार के अंत में यह 7390.40 रुपये पर बंद हुआ था। शुक्रवार को सुबह यह शेयर मजबूती के साथ खुला 7400 रुपये पर खुला और सुबह 11 बजे तक इसकी कीमत बढ़कर 7434 रुपये तक पहुंच गया था।

maruti suzuki

गौरतलब है कि पिछले एक साल से देश के ऑटो जगत में मंदी का आलम है और मारुति सहित लगभग सभी कंपनियों की बिक्री में गिरावट आई है। सितंबर महीने में भी मारुति की बिक्री में 24 फीसदी की भारी गिरावट आई है। पूरे जुलाई से सितंबर की तिमाही के दौरान कंपनी ने कुल 3,38,2317 वाहनों की बिक्री की है, जो कि एक साल पहले के समान अवधि की तुलना में 30.2 फीसदी कम है। इस दौरान कंपनी की शुद्ध बिक्री 25.2 फीसदी गिरकर 16,120.40 करोड़ रुपये रही, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी ने 21,551.90 करोड़ रुपये की बिक्री की थी। सितंबर तिमाही के दौरान कंपनी का कुल रेवेन्यू भी गिरकर 17,905.30 करोड़ रुपये रह गया। एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी का राजस्व 22,959.80 करोड़ रुपये था। कंपनी ने एक बयान में कहा है, ‘कई वजहों से ऑटो इंडस्ट्री की बिक्री में भारी गिरावट आई है। इसकी एक मुख्य वजह है सुरक्षा और बीएस 6 जैसे उत्सर्जन मानक के पालन, वाहन बीमा खर्च बढ़ने, ऑटो लोन कम मिलने आदि की वजह से कार रखना महंगा हो गया है।’

maruti

ऑटो सेक्टर के लिए सितंबर का महीना भी बिक्री के लिहाज से निगेटिव रहा है। सितंबर में मारुति सुजुकी की बिक्री में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। ऑटो सेक्टर के लिए सितंबर का महीना भी बिक्री के लिहाज से निगेटिव रहा है। तमाम कोशिशों बावजूद यह सेक्टर मंदी से उबर नहीं पा रही है। सितंबर में मारुति सुजुकी की बिक्री में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है।