PM मोदी बोले, ‘चौकीदार रुकने वाला नहीं है, चौकीदार एक को भी छोड़ने वाला नहीं है’

Written by Newsroom Staff January 12, 2019 2:46 pm

नई दिल्ली। दिल्‍ली के रामलीला मैदान में शुक्रवार को शुरू हुए बीजेपी के राष्‍ट्रीय अधिवेशन का आज अंतिम दिन है। पीएम नरेंद्र मोदी ने इस दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा ‘कभी दो कमरों से चलने वाली पार्टी, दो सांसदों वाली पार्टी आज इस विशाल स्वरूप में अपना राष्ट्रीय अधिवेश कर रही है जो अपने आप में अद्भुत और अविस्मरणीय है। उन्‍होंने अटल जी को याद करते हुए कहा कि आज हमारे समर्पण को देखकर अटल जी को संतोष हो रहा होगा। अटल जी दोबारा पीएम बने होते तो देश आज कहीं और होता।पीएम मोदी ने अगस्‍ता वेस्‍टलैंड घोटाले मामले में दुबई से प्रत्‍यर्पित करके भारत लाए गए क्रिश्चियन मिशेल का जिक्र करते हुए कहा कि विदेशी बिचौलिये को पकड़कर भारत लाया गया है। पहले की सरकार में बिचौलियों को हवाई जहाजों से देश के बाहर ले जाया जाता था। उन्‍होंने कहा कि ये चौकीदार रुकने वाला नहीं है, चौकीदार एक को भी छोड़ने वाला नहीं है।

पीएम मोदी ने कहा ‘2014 से पहले देश उस स्थिति में था जब बैंकों में अपना पैसे जमा करने वालों की कोई कद्र नहीं थी, जिनके पास जनता के पैसे की रक्षा की जिम्मेदारी थी, वो ही जनता का पैसा लुटा रहे थे, कांग्रेस की सरकार में जनता का पैसा घोटालेबाजों को लोन के रूप में दिया जा रहा था।

‘कांग्रेस प्रोसेस वाली लोन व्यवस्था पर लगाम लगाई’

पीएम मोदी ने कहा कि देश के बैंक कांग्रेस की तिजोरी थे, कांग्रेस के समय लोन लेने के दो तरीके थे, एक था कॉमन प्रोसेस और दूसरा कांग्रेस प्रोसेस। कॉमन प्रोसेस में आप बैंक से लोन मांगते थे और कांग्रेस प्रोसेस में बैंकों को कांग्रेस के घोटालेबाज मित्रों को लोन देने के लिए मजबूर किया जाता था। उन्‍होंने कहा ‘आजादी से लेकर 2008 तक 60 सालों में बैंकों ने मात्र 18 लाख करोड़ रुपये का लोन दिया था, लेकिन 2008 से 2014 तक ये आंकड़ा बढ़कर 52 लाख करोड़ हो गया यानी कांग्रेस के आखरी 6 साल में 34 लाख करोड़ के लोन दिए गए।

बीजेपी पर लोगों का भरोसा: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा ‘स्वतंत्रता के बाद अगर सरदार बल्लभ भाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री बनते तो देश की तस्वीर कुछ और ही होती, वैसे ही 2000 के चुनाव के बाद अगर अटल जी प्रधानमंत्री बने रहते तो आज भारत कहीं और होता। उन्‍होंने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में बीजेपी के नेतृत्व में जिस तरह हमारी सरकारें चली हैं, उससे जनमानस में यह भाव स्थापित हुआ है कि देश को ऊंचाई पर अगर कोई दल ले जा सकता है तो वह सिर्फ और सिर्फ बीजेपी है, कुछ लोग आरक्षण की आड़ में साजिश रचते हैं. भ्रम फैलाते हैं. ऐसे लोगों को नाकाम करते हुए चलना है।

किसानों के लिए बहुत कुछ करना है: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा ‘यूपीए सरकार ने अपने आखिरी पांच साल में किसानों से 7 लाख मीट्रिक टन दलहन और तिलहन की खरीद की। हमने बीते साढ़े चार साल में 95 लाख मीट्रिक टन उपज किसान से खरीदी। अब भी हम किसानों के लिए बहुत कुछ करना चाहते हैं। उन्‍होंने कहा ‘पहले दाल की कीमतों को लेकर कितना हल्ला मचाया जाता था। अब कितने दिन हो गए कि टीवी पर दाल की कीमतों पर ब्रेकिंग न्यूज नहीं आई, यह संभव हुआ क्योंकि हमारी सरकार ने नई नीतियां बनाई हैं।

Facebook Comments