मोदी सरकार-2 में हुए ऐसे काम जो बनाते हैं उसके 100 दिन को दमदार

7 सितंबर को मोदी सरकार-2 के सौ दिन पूरे हो रहे हैं, इस मौके पर जानना जरूरी है कि आखिर मोदी सरकार के लगातार दूसरे कार्यकाल में ये 100 दिन कैसे रहे। बता दें कि शुरुआती इन सौ दिनों में मोदी सरकार जम्मू-कश्मीर से धारा 370 का हटाना और कई महत्वपूर्ण बिलों को पास करवा चुकी है।

Written by: September 7, 2019 12:31 pm

नई दिल्ली। 7 सितंबर को मोदी सरकार-2 के सौ दिन पूरे हो रहे हैं, इस मौके पर जानना जरूरी है कि आखिर मोदी सरकार के लगातार दूसरे कार्यकाल में ये 100 दिन कैसे रहे। बता दें कि शुरुआती इन सौ दिनों में मोदी सरकार जम्मू-कश्मीर से धारा 370 का हटाना और कई महत्वपूर्ण बिलों को पास करवा चुकी है।

Narendra Modi And Amit Shah

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाया

मोदी सरकार अपने चुनावी वायदों में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाना भी शामिल था। इसके लेकर मोदी सरकार पर आम जनता का दबाव भी था कि आखिर धारा 370 कब हटेगी। फिलहाल अपने दूसरे कार्यकाल के शुरुआती 100 दिनों में मोदी सरकार ने नामुमकिन सा लगने वाला यह काम कर दिखाया। बता दें कि 5 अगस्त को गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में धारा 370 हटाने का प्रस्ताव दिया और भाजपा के चुनावी वादे को पूरा किया।

Article 370

इसके साथ ही जम्मू कश्मीर को दो अलग अलग यूनियन टेरिटरी में बांटा गया। जोकि इतना आसान भी नही था, राज्यसभा के बहुमत को हासिल करने से लेकर विपक्ष में कई फाड़ कर देने तक मोदी सरकार ने अदभुत कूटनीति का परिचय दिया। फिर इस कदम के अंतरराष्ट्रीय असर को साधने की कवायद में भी अभूतपूर्व सफलता मिली।

UAPA एक्ट में संशोधन

नरेंद्र मोदी सरकार ने आतंकवाद पर लगाम कसने के लिए UAPA यानी गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम (संशोधन) विधेयक-2019 को संसद से अमलीजामा पहनाया। नया यूएपीए कानून आतंकी गतिविधियों में लिप्त या उसे प्रोत्साहित करते मिले किसी व्यक्ति को आतंकी घोषित करने का अधिकार देता है। इस संशोधित कानून के जरिए मोदी सरकार ने हाल ही में मोस्ट वांटेड दाऊद इब्राहिम, हाफिज सईद, मौलाना मसूद अजहर और जकीउर रहमान लखवी को आतंकी घोषित किया हैं। बता दें कि नया कानून NIA को आरोपी की प्रापर्टी जब्त करने का अधिकार देता है।

कई बैंकों के विलय का फैसला

इस 100 दिन में मोदी सरकार ने देश में आर्थिक सुधार की दिशा में कई अहम कदम उठाए। सरकार ने दस सरकारी बैंकों के विलय करके चार बड़े बैंक बनाने का ऐलान किया हैं। ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक का पंजाब नेशनल बैंक में विलय किया गया। सिंडिकेट बैंक को केनरा बैंक और इलाहाबाद बैंक को इंडियन बैंक में मिलाया गया। आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया से जोड़ने का एलान किया। इस विलय से बैंकों को बढ़ते NPA से राहत मिलेगा, साथ ही उपभोक्ताओं को बेहतर बैंकिंग सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी।

जल शक्ति मंत्रालय का गठन

जल समस्या से निपटने के लिए मोदी सरकार ने अपने चुनावी वायदे को पूरा करते हुए एकीकृत मंत्रालय का गठन किया। बता दें कि मोदी सरकार ने जल संसाधन और पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालयों को मिलाकर जल शक्ति मंत्रालय बनाया है। जिसका उद्देश्य हर भारतीय को साफ पेयजल उपलब्ध कराना है। इसके लिए ‘जलशक्ति अभियान’ के तहत 256 जिलों के 1592 खंडों की पहचान की गई है। जिन जगह पर जल स्तर नीचे है, उन जगहों की पहचान की जाएगी। हर घर में, हर नल में पानी पहुंचाने का लक्ष्य सरकार ने रखा है। साथ ही इसके जरिए जल संरक्षण और जल संचयन का लक्ष्य भी रखा गया है।

मोदी का मिशन-फिट इंडिया

प्रधानमंत्री ने खेल दिवस के अवसर पर फिट इंडिया मूवमेंट की शुरूआत की. इसके तहत स्कूल, कॉलेज, जिला, ब्लॉक स्तर पर इस मूवमेंट को मिशन की तरह चलाया जाएगा। फिट इंडिया अभियान को सफल बनाने के लिए केंद्र सरकार के  खेल मंत्रालय, मानव संसाधन विकास मंत्रालय, पंचायती राज और ग्रामीण विकास जैसे मंत्रालय आपसी तालमेल से काम करेंगे और इसकी रूपरेखा तैयार करेंगे। पीएम मोदी ने फिट इंडिया की शुरुआत करते हुए कई मंत्र भी दिखे, जिसमें लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल या बॉडी फिट-माइंड हिट के फॉर्मूले का अपनाया गया।

triple talaq

महत्वपूर्ण विधेयकों को कानून की शक्ल देना

अपने 100 दिन के कार्यकाल में मोदी सरकार-2 एक्शन में नजर आई। एक के बाद दूसरे महत्वपूर्ण विधेयक कानून की शक्ल में पास किए गए। इनमें जम्मू कश्मीर पुर्नगठन बिल के साथ ही तीन तलाक, मोटर व्हीकल कानून, आरटीआई संशोधन विधेयक, यूएपीए संशोधन, एनआईए संशोधन जैसे 36 विधेयक शामिल थे।

एक सत्र में सबसे ज्यादा काम

मोदी सरकार-2 ने अपने इस कार्यकाल में संसद में कार्यवाही का भी एक नया रिकार्ड बना डाला। दरअसल मोदी सरकार ने लोकसभा में किसी एक सत्र में सबसे अधिक कामकाज का अदभुत रिकार्ड बनाया है।

यूएई से मिला सर्वोच्च सम्मान

अपनी सरकार के दूसरे कार्यकाल में पीएम मोदी को जहां को कई मुस्लिम देशों से खास सम्मान मिला तो वहीं संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने उन्हें अपने सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ जायद’ से नवाजा। इसके अलावा बहरीन के सम्मान ‘किंग हमाद ऑर्डर ऑफ द रेनेसां’ से भी उन्हें सम्मानित किया गया। मोदी को मालदीव के सर्वोच्च सम्मान, निशान इजुद्दीन से भी नवाजा गया। अंतराष्ट्रीय मोर्चे पर भी मोदी सरकार की उपलब्धियां बेमिसाल रहीं।

100 दिन में की इन बड़े देशों की यात्रा

पीएम मोदी ने इस कार्यकाल में अब तक रूस, फ्रांस, जापान समेत सात देशों की यात्रा की है। उनकी फ्रांस में यूएस के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ हुई मुलाकात खासी चर्चा में रही। इस मुलाकात में अमेरिका ने दुनिया के सामने कश्मीर के मुद्दे को भारत का आंतरिक मुद्दा करार दिया। प्रधानमंत्री मोदी का ट्रंप के साथ बातचीत का स्वाभिमान से भरा हावभाव भी पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना रहा।