ब्लॉग

देश की राजनीति बदलने की बात कर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की सत्ता पर काबिज होने वाले अरविंद केजरीवाल के लिए इस बार सत्ता हासिल करना चुनाव प्रचार के कुछ दिनों तक आसान लग रहा था।

याद रखिए, कोई भी सभ्य समाज अपने भीतर नाथूराम गोडसे के पैदा होने से कलंकित ही महसूस करेगा, लेकिन साथ ही वह केवल महात्मा गांधी पैदा करने की गारंटी भी नहीं दे सकता।

गणित का ये हाल देखकर हैरानी होती है कि IITian CM के राज में गणित शिक्षा को लेकर भी सरकार का रुख नेगेटिव ही है। जोर रिजल्ट बेहतर करने पर ही है, गणित शिक्षा को बढ़ावा देने पर नही।

जो इस्लामिक 1947 में भारत में रह गए, उनके लिए हमारे मन में रत्ती भर भी निषेध नहीं है, लेकिन जो इस्लामिक थोक में दूसरे इस्लामिक मुल्कों से घुसपैठ करके भारत आ रहे हैं, उन्हें मानवता के नाते व्यक्तिगत केसों के आधार पर सीमित मात्रा में तो स्वीकार कर सकते हैं, लेकिन थोक में नहीं।

भूमि और सभी प्राणी परस्पर अन्तर्सम्बन्धित हैं। यह नेह मां और पुत्र जैसा है। वैदिक साहित्य में इस सम्बंध का अनेकशः उल्लेख है। वैदिक ऋषि पृथ्वी को बार-बार नमन करते हैं। अथर्ववेद (भूमि सूक्त, 12.26 व 27) में कहते हैं, “इस भूमि की सतह पर धूलिकण हैं, शिलाखण्ड व पत्थर हैं।

बच्चे जब प्राइवेट में जा रहे है तो बीते दिनों 700 कम फीस लेकर चल रहे प्राइवेट स्कूलों को बंद करने की बात कही। यही नही, दो चार उदाहरण लेकर झूठी खबरें फैलाया गया कि प्राइवेट से बच्चे सरकारी में आ रहे है।

अंबेडकर के बारे में लिखते हुए कीर कहते हैं कि समाज सुधारक वही पुनर्जीवित करता है जो पहले से मौजूद हो जबकि एक क्रांतिकारी पुराने को ध्वस्त कर नवनिर्माण करता है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2015 के 70 सीटों के नतीजे पर गौर करें तो आप(आम आदमी पार्टी) को 67 सीटें हासिल हुई थी और उसका वोट प्रतिशत 54.30% रहा था।

कविता और विज्ञान एक साथ नहीं मिलते। काव्य में भाव अभिव्यक्ति की प्रमुखता होती है और विज्ञान में प्रत्यक्ष सिद्धि की। विज्ञान में पृथ्वी सौर मण्डल का ग्रह है। पृथ्वी पर तमाम वस्तुएं, खनिज, वनस्पतियां और जल पृथ्वी का भाग है।