जेट कर्मचारियों ने आईजीआई हवाई अड्डे पर किया मौन प्रदर्शन

नकदी के संकट से जूझ रही एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज के कर्मचारियों ने अपने बकाये का भुगतान करने की मांग को लेकर शनिवार को यहां इंदिरा गांधी हवाई अड्डे (आईजीआई) के टर्मिनल-3 के बाहर मौन विरोध मार्च निकाला।

Written by: April 14, 2019 11:04 am

नई दिल्ली। नकदी के संकट से जूझ रही एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज के कर्मचारियों ने अपने बकाये का भुगतान करने की मांग को लेकर शनिवार को यहां इंदिरा गांधी हवाई अड्डे (आईजीआई) के टर्मिनल-3 के बाहर मौन विरोध मार्च निकाला।

जेट के कर्मचारियों ने आईजीआई हवाई अड्डे के टर्मिनल-3 के बाहर ‘जेट एयरवेज बचाओ मानव श्रंखला’ बनाकर शांतिपूर्ण ढंग से मौन मार्च निकाला।


कर्मचारियों ने कर्ज में डूबी एयरलाइन में जान फूंकने के लिए भावी कार्रवाई के बारे में जानकारी मांगी। वर्तमान में कंपनी कर्जदाताओं से अंतरिम वित्तपोषण प्राप्त करना चाहती है जिससे मौजूदा परिचालन को बहाल रखा जाए।

बता दें कि पिछले गुरुवार को इस एयरलाइन की महज 14 विमानों ने ही उड़ान भरी, जो 123 विमानों के बेड़े का करीब दस फीसदी ही है। शुक्रवार की शाम नागरिक उड्डयन महानिदेशक (डीजीसीए) और नागरिक उड्डयन सचिव प्रदीप खरोला ने पीएमओ के अधिकारियों से मुलाकात कर उनको एयरलाइन के हालात की ताजा जानकारी दी।

खरोला ने कहा कि शनिवार को एयरलाइन के सिर्फ छह विमानों का परिचालन होगा और जेट एयरवेज सोमवार को अंतरिम वित्तपोषण के लिए कर्जदाताओं से संपर्क करेगी। ताजा स्थिति को देखें तो जेट एयरवेज के बेड़े में विमानों की फिर कमी होने के बाद कंपनी ने सप्ताह के आखिर तक के लिए अपनी सभी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें रद्द कर दी हैं।