बिजनेस

सेंसेक्स बीते सत्र में रिकॉर्ड ऊंचे स्तर पर बंद होने के बाद शुक्रवार को आरंभिक कारोबार के दौरान करीब 150 अंक टूटा और निफ्टी भी फिसलकर 12,000 के नीचे आ गया।

पेट्रोल और डीजल के दाम में बीते पांच सप्ताह से ज्यादा दिनों के बाद शुक्रवार को फिर वृद्धि हुई। तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के दाम में नौ से 10 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की है।

भारतीय शेयर में गुरुवार को फिर तेजी के माहौल के बीच प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स एक नई उंचाई पर पहुंचा और निफ्टी में भी तेजी जारी रही। सेंसेक्स आरंभिक कारोबार के दौरान 40,676 तक जा पहुंचा जोकि अब तक का रिकॉर्ड स्तर है।

गौरतलब है कि एक दिन पहले केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने बताया कि प्याज आपूर्ति जल्द ही विदेशों से आरंभ होने वाली है, जिसके बाद कीमतें नियंत्रण में रहेंगी। केंद्र सरकार ने प्याज का आयात करने का फैसला लिया है।

अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज पर ब्रेंट क्रूड के जनवरी डिलीवरी अनुबंध में मंगलवार को 0.19 फीसदी की नरमी के साथ 62.02 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था।

सर्वोच्च स्तर 40,434.83 पर जाने से पहले सुबह 9.27 बजे बंबई स्टॉक एक्सचेंज के 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्स 216.40 अंकों की तेजी (0.54 प्रतिशत) के साथ 40,381.43 पर पहुंच गया।

मैकडॉनल्ड्स ने अपने चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर (सीईओ)  स्टीव ईस्टरब्रुक को कंपनी की पॉलिसी का उल्लंघन करने के आरोप में बाहर का रास्ता दिखाया है।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार सोमवार को दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम घटकर क्रमश: 72.65 रुपये, 75.37 रुपये, 78.33 रुपये और 75 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं।

वैश्विक घटनाक्रमों का भी असर घरेलू शेयर बाजार पर बना रहेगा। बैंकॉक में आयोजित आसियान शिखर सम्मेलन के दौरान क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी के तहत फ्री ट्रेड को लेकर होने वाले करार पर भी बाजार की नजर होगी।