अब बिटकॉइन और ईथर दान स्वीकार कर रहा यूनिसेफ

यूनिसेफ के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर हेनरीटा फोर ने एक बयान में कहा, “यह यूनिसेफ के लिए एक नया और रोमांचक वेंचर है। यदि डिजिटल इकोनोमी और करेंसी में यह क्षमता है कि वह आने वाली पीढ़ियों के जीवन को आकार दे सकती हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि यह जो ऑफर देते हैं, उन्हें देखा जाना चाहिए।”

Written by: October 10, 2019 6:47 pm

नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने अब अपने नव-स्थापित यूनिसेफ क्रिप्टोक्यूरेंसी फंड के माध्यम से क्रिप्टोकरेंसी ईथर और बिटकॉइन में दान स्वीकार करना शुरू कर दिया है। यूनिसेफ क्रिप्टोक्यूरेंसी फंड में पहला योगदान ईथरइयम फाउंडेशन से प्राप्त होगा। इसके इनोवेशन फंड के तीन अनुदानकर्ताओं की समन्वित एक परियोजना को यह लाभान्वित करेगा, जिससे गिगा पहल द्वारा दुनियाभर के स्कूलों को इंटरनेट से जोड़ने का कार्य किया जाएगा।


यूनिसेफ के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर हेनरीटा फोर ने एक बयान में कहा, “यह यूनिसेफ के लिए एक नया और रोमांचक वेंचर है। यदि डिजिटल इकोनोमी और करेंसी में यह क्षमता है कि वह आने वाली पीढ़ियों के जीवन को आकार दे सकती हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि यह जो ऑफर देते हैं, उन्हें देखा जाना चाहिए।”


उन्होंने आगे कहा, “इसीलिए हमारे क्रिप्टोक्यूरेंसी फंड का निर्माण मानवीय और विकास कार्यों में एक महत्वपूर्ण और स्वागत योग्य कदम है।” जब संगठन को एक क्रिप्टोक्यूरेंसी दान प्राप्त होगा, तो वह इसे राष्ट्रीय मुद्रा के लिए नकद नहीं देगा। इसके बजाय, यह बिटकॉइन या ईथर के रूप में इसे होल्ड करेगा और उसे धर्मार्थ कारण के लिए धन भेजेगा।