Monday, June 18, 2018

यूएन में आतंकवाद पर पाकिस्तान को घेरने की सुषमा स्वराज की कूटनीतिक मुहिम कामयाब

संयुक्त राष्ट्र महासभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान को कठघरे में खड़ा करने वाले संबोधन को महज एक भाषण...

क्यों कहा गया भारत को इंडिया?

भारत का राष्ट्रधर्म है संविधान। इसका स्वीकार, आदर और परिपालन हम भारत के लोगों का प्रथम कर्तव्य है। हम भारत के लोगों ने ही...

श्रद्धा भाव है और श्राद्ध कर्म

श्रद्धा भाव है और श्राद्ध कर्म। श्रद्धा मन का प्रसाद है और प्रसाद आंतरिक पुलक। पतंजलि ने श्रद्धा को चित्त की स्थिरिता या अक्षोभ...

सत्य की प्रतिष्ठा शाश्वत जीवन मूल्य है

गतिशील समाज वर्तमान से संतुष्ट नहीं रहते। राजव्यवस्था से भी नहीं। जनतंत्री देशों में चुनाव होते हैं। राजव्यवस्था के कर्ताधर्ता एक निश्चित अवधि बाद...

इदं नमः पूर्वजेभ्यः

‘सत्य, शिव और सुन्दर’ प्राचीन भारतीय प्यास है। यही भारतीय संस्कृति का मूल स्वरूप भी है। हमारे पूर्वजों ने इस संस्कृति का विकास हजारों...

डोकलाम पर भारत से चीन हुआ पस्त तो पाक जैसे पड़ोसियों की भी खुल...

नई दिल्ली। डोकलाम से चीन ने पैर वापस खींचने में ही भलाई समझी। इसे भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत के तौर पर देखा जा...

‘मैं’ होना दुख है, ‘हम’ होना परम सुख

इकाई का महत्व अनंत में है। हम इकाई हैं, लेकिन विराट जगत् में कुछ भी नहीं। हम अनंत का भाग हैं, हम अनंत में...

जीवन मार्ग क्या है?

मनुष्य संसार में है और संसार बड़ा है। प्रकृति की अनेक शक्तियां भी सक्रिय हैं। सो संसार और मनुष्य के बीच तमाम अन्तर्विरोध भी...

घरों में पढ़ने की पुरानी संस्कृति को वापस लाने का है सपना: ‘रेखना मेरी...

लेखक रत्नेश्वर कुमार सिंह को उनके उपन्यास ‘रेखना मेरी जान’ के लिए 1 करोड़, 75 लाख रुपए में अनुबंधित किया गया है। पटना की...

हम आकाश से जुड़े हैं, आकाश हमारा मूल है

मनुष्य स्वेच्छा से जन्म नहीं लेता। मनुष्य का जन्म तमाम ज्ञात और अज्ञात परिस्थितियों का परिणाम होता है। भारतीय चिंतन में प्रकृति में पांच...

ताजा खबरें