गौर से देखिये इस फोटो को, जो दिखेगा उसे देख आप कांग्रेसियों को कभी माफ़ नहीं करेंगे…

  • 338
  • 3
  •  
  •  
  •  
    341
    Shares

नई दिल्ली। कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ताओं ने उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में गुरुवार को तिरंगा मार्च निकाली। नौ अगस्त को भारत छोड़ो आंदोलन के 75 वर्ष पूरे होने पर कांग्रेजनों ने तिंरगा मार्च निकाला था। लेकिन इस तिरंगा मार्च में सेवादल के कार्यकर्ताओं ने जो गलती की वह किसी से छिपी नहीं है। कांग्रेस सेवा दल के कर्याकर्ताओं की यह गलती देखकर आप भी हैरान रह जाएंगे। congress Dehradun Uttrakhand

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की तर्ज पर कांग्रेस अपने सेवा दल के विस्तार पर लगी हुई है। कांग्रेस इसके जरिए संघ के सिद्धांतों से मुकाबला करना चाहती है। इसी को लेकर कांग्रेस की तरफ से पूरे देश में सेवादल को मजबूत करने की कवायद तेज कर दी गई है। congress Dehradun Uttrakhandकांग्रेस के कई नेता अलग-अलग मंचों से अपने धूर विरोधी संगठन संघ से अपने सेवा दल के सदस्यों को अनुशासन सीखने की बात कह चुके हैं।

9 अगस्त को क्रांति दिवस के मौके पर देश के कई हिस्सों में कांग्रेस सेवा दल ने तिरंगा यात्रा निकाली। इसी मौके पर उत्तराखंड में कांग्रेस सेवा दल ने भी तिरंगा यात्रा निकाली थी। जानकारी के मुताबिक, भारत छोड़ो आंदोलन की सालगिरह मनाने उतरे कांग्रेस नेताओं ने उल्टा तिरंगा लहराकर रैली कर डाली।congress Dehradun Uttrakhand

कांग्रेस सेवा दल द्वारा देहरादून में महात्मा गांधी और दूसरे सत्याग्रहियों के सम्मान में निकली तिरंगा यात्रा में उल्टा झंडा टांगकर रैली निकाल दी गई। हैरान करने वाली बात ये है कि यात्रा के दौरान किसी भी कार्यकर्ता का ध्यान इस पर नहीं गया।congress Dehradun Uttrakhand

तस्वीर में आप देख सकते हैं कि रैली का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ता ने जो झंड़ा हाथ में थामा है, उसे उल्टा टांगा गया है। उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस सेवादल ने गुरुवार (09 अगस्त) को कांग्रेस भवन से ये यात्रा निकाली थी।congress Dehradun Uttrakhand

जानकारी के मुताबिक, पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कांग्रेस भवन से हरी झंडी दिखाकर तिरंगा यात्रा को रवाना किया था। ढोल नगाड़े के साथ यात्रा लैंसडाउन चौक होते हुए गांधी पार्क पहुंची थी। गांधी पार्क पहुंचकर कार्यकर्ताओं ने महात्मा गांधी अमर रहे के नारे लगाए। हैरान करने वाली बात ये है इसके बाद भी किसी का ध्यान तिरंगे पर नहीं गया। कांग्रेस उत्तराखंड प्रदेश में सेवा दल के बहाने पार्टी तो मजबूत करने की तैयारी में है।

Facebook Comments