एप्पल भारत में अपने आपूर्तिकर्ता कर्मियों को दे रहा स्वास्थ्य शिक्षा

दुनिया की जानी-मानी आईफोन निर्माता कंपनी एप्पल ने भारत में अपनी सहयोगी कंपनी (विस्ट्रॉन कॉरपोरेशन) के कर्मचारियों को स्वास्थ्य तौर पर जागरूक करने का ऐलान किया है।

Avatar Written by: March 8, 2019 11:00 am

नई दिल्ली। दुनिया की जानी-मानी आईफोन निर्माता कंपनी एप्पल ने भारत में अपनी सहयोगी कंपनी (विस्ट्रॉन कॉरपोरेशन) के कर्मचारियों को स्वास्थ्य तौर पर जागरूक करने का ऐलान किया है। एप्पल ने अपनी 13वीं वार्षिक रिपोर्ट में बताया कि कपंनी में कर्मचारियों में 85 प्रतिशत कैंसर को लेकर, 60 प्रतिशत पोषण को लेकर और 54 प्रतिशत डायबिटिज, हायपरटेंशन और कॉलस्ट्रोल को लेकर जागरूकता बढ़ी है।ताइवान की विस्ट्रॉन कॉर्पोरेशन वर्तमान में भारत में बेंगलुरु में आइफोन बना रही है और देश के कई और हिस्सों में इसको आगे भी बढ़ा रही है।
Apple

एप्पल ने 2017 में स्वास्थ्य कार्यक्रम शुरू किया, जिसमें कर्मचारियों को स्वास्थ की मूलभूत जानकारियां, वितरक महिलाओं को जागरूक करना और इन सभी को स्वस्थ रहने के लिए जागरूक करने का काम किया जा रहा है।

अब इस स्वास्थ्य कार्यक्रम को भारत में बढ़ाया जा रहा है, जिसमें कंपनी ने सेंट जॉन्स मेडिकल कॉलेज के साथ साझेदारी की है जो कि वितरक कर्मचारियों को जागरूक कर रहे हैं।

एप्पल ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि इसकी शुरुआत बुधवार को हुई। इसी के साथ एप्पल ने ये भी बताया कि इस कार्यक्रम में कंपनी कर्मचारियों को स्वास्थ्य को कैसे ठीक रखा जाए और कैसे निरोगी रहा जाए, यह बताया जाएगा। इसी के साथ सेंट जॉन्स पोषण सलाहकर भी मुहैया करवाएगा जो वितरकों के खानपान पर ध्यान देंगे।

एप्पल 2020 तक अपने 10 लाख कर्मचरियों तक स्वास्थ्य जागरूकता फैलाना चाहती है, इसी के साथ 2018 तक विश्व स्तर पर इस कार्यक्रम में लगभग 2.5 लाख कर्मचारी हिस्सा ले चुके हैं।

एप्पल अब तक लगभग 17.3 मिलियन कर्मचारियों को कोर्यस्थल अधिकारों को लेकर जागरूक कर चुका है। वहीं एप्पल विश्व स्तर पर 2018 में लगभग 3.6 मिलियन कर्मचारियों को आधुनिक शिक्षा और स्किल ट्रेनिंग दे चुका है।

एप्पल अब तक 30 से ज्यादा देशों में लगभग 770 कार्यक्रम कर चुका है, जिसमें 93 प्रतिशत कंपनी के वितरक शामिल हुए।