CBSE ने छात्रों के कन्फ्यूजन को किया दूर, परीक्षा फिस के तौर पर देने होंगे इतने रुपये

सीबीएसई ने रविवार को बोर्ड परीक्षा की फीस में बढ़ोतरी को लेकर स्टूडेंट्स के बीच फैले कन्फ्यूजन को दूर करते हुए बयान जारी किया है। बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि फीस बढ़ोतरी सिर्फ दिल्ली के लिए नहीं बल्कि पूरे देश के लिए है।

Written by Newsroom Staff August 12, 2019 10:24 am

नई दिल्ली। सीबीएसई ने रविवार को बोर्ड परीक्षा की फीस में बढ़ोतरी को लेकर स्टूडेंट्स के बीच फैले कन्फ्यूजन को दूर करते हुए बयान जारी किया है। बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि फीस बढ़ोतरी सिर्फ दिल्ली के लिए नहीं बल्कि पूरे देश के लिए है। सीबीएसई ने साथ ही दावा किया कि उसने पांच साल के अंतराल के बाद फीस बढ़ाई है। पहले ऐसी खबर थी कि सामान्य कैटिगरी की फीस 750 रुपये से 1500 रुपये और एससी-एसटी के लिए 50 से बढ़ाकर 1200 रुपये कर दी गई है।

cbse_board

सीबीएसई के बयान के मुताबिक, ‘भारत में सीबीएसई से मान्यता प्राप्त स्कूलों के सभी वर्ग के स्टूडेंट्स की फीस बढ़ाई गई है। सभी स्टूडेंट्स पहले 750 रुपये बतौर फीस देते थे जो उन्हें अब 1500 रुपये देने होंगे। दृष्टि बाधित स्टूडेंट्स से कोई फीस नहीं वसूली जाएगी।’


बोर्ड ने यह भी स्पष्ट किया है कि एससी-एसटी स्टूडेंट्स को सिर्फ दिल्ली में छूट मिल रही थी। विशेष व्यवस्था के तहत दिल्ली के एससी-एसटी स्टूडेंट्स के लिए फीस 350 रुपये तय की गई थी जिसमें 300 रुपये दिल्ली सरकार और 50 रुपये स्टूडेंट्स जमा करते थे। दिल्ली के सामान्य कैटिगरी के स्टूडेंट्स देश के बाकी स्टूडेंट्स की तरह 750 रुपये फीस देते थे, जिन्हें अब 1500 रुपये देने होंगे।