मध्य प्रदेश में 35 साल की उम्र तक के बाहरी उम्मीदवार भी दे सकेंगे पीएससी की परीक्षा

इसके पहले बाहरी उम्मीदवारों के लिए यह आयु सीमा 21 से 28 वर्ष थी। साथ ही अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, महिलाओं आदि के लिए आयु सीमा 21 से 40 वर्ष करने का निर्णय लिया गया। 

Written by Newsroom Staff June 12, 2019 11:58 am

भोपाल। मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने सरकारी नौकरी की आयु सीमा में बड़ा बदलाव किया है, अब राज्य के बाहर के उम्मीदवार भी 35 वर्ष की आयु तक लोक सेवा आयोग (पीएससी) की परीक्षा में सम्मिलित हो सकेंगे। यह बदलाव सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जारी किए गए निर्देशों के तहत किया गया है।

कमलनाथ कैबिनेट की मंगलवार की रात को हुई बैठक में तय किया गया है कि राज्य की सरकारी नौकरी की भर्ती प्रक्रिया में राज्य और बाहर के उम्मीदवारों के लिए आयु एक समान होगी। अब लोक सेवा आयोग की परीक्षा में न्यूनतम आयु 21 और अधिकतम आयु 35 वर्ष कर दी गई है।

सांकेतिक तस्वीर

इसके पहले बाहरी उम्मीदवारों के लिए यह आयु सीमा 21 से 28 वर्ष थी। साथ ही अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, महिलाओं आदि के लिए आयु सीमा 21 से 40 वर्ष करने का निर्णय लिया गया।


सरकार ने लोक सेवा आयोग की परिधि से बाहर के तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी पदों के लिए खुली प्रतियोगिता से सीधी भर्ती के भरे जाने वाले पदों के लिए आयु सीमा 18 से 32 वर्ष निर्धारित की गई है। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, महिलाओं आदि के लिए आयु सीमा 18 से 37 वर्ष करने का निर्णय लिया गया है।