अयोध्या मामला -सुप्रीम कोर्ट के फैसले का बॉलीवुड सेलेब्स ने किया स्वागत

फरहान अख्तर, तापसी पन्नू और मधुर भंडारकर जैसे बॉलीवुड सेलिब्रिटीज ने शनिवार को अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया और लोगों से इस निर्णय को स्वीकार करने और इसका मान रखने की अपील की।

Written by: November 9, 2019 5:28 pm

नई दिल्ली। माननीय सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को अयोध्या विवाद पर अपना फैसला सुना दिया। बॉलीवुड सेलिब्रिटीज फैसला आने से काफी  पहले से ही लोगों से शांति और अमन बनाए रखने की अपील कर रहे थे। कोर्ट का फैसला आने के बाद बॉलीवुड के तमाम सेलेब्स ने अपनी भावनाएं ट्विटर पर व्यक्त की हैं।

madhur bhandarkar

फरहान अख्तर, तापसी पन्नू और मधुर भंडारकर जैसे बॉलीवुड सेलिब्रिटीज ने शनिवार को अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया और लोगों से इस निर्णय को स्वीकार करने और इसका मान रखने की अपील की।

farhan

सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को क्रेंद्र को तीन महीने के भीतर एक ट्रस्ट बनाने का निर्देश दिया, जो अयोध्या में विवादित स्थल पर मंदिर बनाएगा।

Taapsee Pannu
सर्वसम्मत फैसले में, प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच-सदस्यीय पीठ ने कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड, जो इस टाइटल सूट के पक्षकार थे, उन्हें मस्जिद बनाने के लिए कहीं और वैकल्पिक भूमि दी जानी चाहिए। इस ऐतिहासिक फैसले के बाद हैशटैगअयोध्या ने ट्रेंड करना शुरू कर दिया। इस पर अपनी राय साझा करने के लिए बॉलीवुड सेलिब्रिटीज ने भी ट्विटर का इस्तेमाल किया।

आइए देखते हैं कुछ बॉलीवुड हस्तियों की प्रतिक्रियाएं :

तापसी पन्नू : अयोध्या के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट की सराहना। आवश्यक कदम उठाए जाएं। अब उन मुद्दों पर काम करने की दिशा में कदम बढ़ाते हैं जो हमारे देश को रहने योग्य सबसे बेहतर जगह बनाने में मदद करेंगे।


फरहान अख्तर : इससे संबंधित सभी से विनम्र निवेदन, आज अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करें। चाहें यह आपके पक्ष में हो या विपक्ष में, इसे गौरव के साथ स्वीकार करें। एक इंसान के तौर पर हमें इससे अब आगे बढ़ने की जरूरत है। जय हिंद।


मधुर भंडारकर : अयोध्या मसले पर सम्माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा लिए गए सही फैसले का स्वागत करता हूं। लंबे समय से विचाराधीन मुद्दे का अन्तत: समाधान हुआ।


कुणाल कपूर : यह शांति और सद्भावना बनाए रखने का वक्त है। एक-दूसरे के प्रति संवेदनात्मक रवैया अपनाएं और एक अधिक समावेशी व एकीकृत राष्ट्र का निर्माण करें।


विवेक आनंद ओबेरॉय : हमारे महान राष्ट्रपिता से बेहतर बात कोई नहीं कह पाया है। शांति कायम कर और हमेशा एकजुट रहकर महात्मा को सम्मान प्रदान करें।