अनुच्छेद 370 रद्द होने से पहले हुई थी फिल्म की शूटिंग -हितेन तेजवानी

फिल्म जम्मू व कश्मीर की पृष्ठभूमि पर आधारित है। जब लगभग सात लाख हिंदू कश्मीरियों की एक बड़ी आबादी को पाकिस्तान की सेना के साथ मिलकर मुस्लिम कट्टरपंथियों ने उन्हें उनकी मातृभूमि से जबरन खदेड़ दिया था।

Avatar Written by: November 24, 2019 5:41 pm

नई दिल्ली।  जम्मू व कश्मीर में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के मद्देनजर ‘मुद्दा 370 जम्मू एंड कश्मीर’ नामक कोई फिल्म जब रिलीज के लिए तैयार हो, तो स्वाभाविक रूप से दर्शकों व मीडिया की उत्सुकता इसे लेकर बनी रहेगी। हालांकि फिल्म के मुख्य अभिनेता हितेन तेजवानी का इस पर कहना है कि अनुच्छेद 370 के रद्द होने के काफी पहले ही फिल्म की शूटिंग हो चुकी थी। उन्होंने यह भी कहा कि फिल्म का मकसद यहां के कश्मीरी पंडितों की वास्तविकता को चित्रित करना है।

hiten tejwani
फिल्म के म्यूजिक लॉन्च पर हितेन ने कहा, “मुझे यकीन है कि जम्मू व कश्मीर में धारा 370 के निरस्त होने के बाद कई लोगों ने इस फैसले के पीछे के असली मुद्दे को जानने की कोशिश की है। हालांकि केंद्र सरकार द्वारा इस निर्णय को लेने से पहले ही हमने फिल्म की शूटिंग कर ली थी। हमने मार्च के महीने में शूटिंग शुरू की थी। हम सभी जानते हैं कि फिल्में एक या दो महीने में नहीं बनती हैं। इस निर्णय के बाद जब इस मुद्दे ने खबरों में जगह बना ली तभी हमारी फिल्म खत्म हुई। सरकार के इस निर्णय से पहले ही हमारी फिल्म तैयार थी और पोस्ट प्रोडक्शन प्रक्रिया में थी।”

hiten tejwani
उन्होंने आगे कहा, “मुझे लगता है कि फिल्म को तैयार करने का हमारा उद्देश्य अब हल हो गया है। अब जब लोग फिल्म को देखेंगे तो उन्हें इस बारे में पता होगा।”

hiten tejwani
फिल्म जम्मू व कश्मीर की पृष्ठभूमि पर आधारित है। जब लगभग सात लाख हिंदू कश्मीरियों की एक बड़ी आबादी को पाकिस्तान की सेना के साथ मिलकर मुस्लिम कट्टरपंथियों ने उन्हें उनकी मातृभूमि से जबरन खदेड़ दिया था।

Support Newsroompost
Support Newsroompost