‘दमादम मस्त कलंदर’ की सिंगर ने लिया संन्यास, इस्लाम को बताया वजह

उन्होंने कहा कि मैं शुक्रगुजार हूं अपने फैंस की कि उन्होंने मुझे इतना प्यार दिया और मेरे गानों को इतना पसंद किया। मैं उम्मीद करती हूं कि मेरे नए फैसले को भी मेरे फैंस उतना ही सम्मान देंगे।

Written by: October 6, 2019 11:55 am

नई दिल्ली। मशहूर पाकिस्तानी लोक गायिका शाजिया कुश्क ने गायकी के प्रोफेशन से संन्यास लेने का फैसला किया है। इससे पहले भी बॉलीवुड सेलिब्रिटी जायरा वसीम ने मनोरंजन जगत से संन्यास लेने का फैसला लिया था। उनके इस फैसले से पूरा बॉलीवुड स्तब्ध था। एक बार फिर पाक सिंगर ने ये फैसला लिया है और दोनों के इस फैसले के पीछे वजह एक ही है। जी हां, दोनों ने संन्यास के पीछे इस्लाम को वजह बताई है।

damadam singer

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पाकिस्तान में बेहद मशहूर शाजिया ने इंडस्ट्री से अलग होने का फैसला कर लिया है। उन्होंने दमादम मस्त कलंदर और दाने पे दाना जैसे कई मशहूर सॉन्ग्स को अपनी आवाज दी है। उन्होंने अपने एक बयान में कहा कि मैं अपनी बाकी जिंदगी इस्लाम की सेवा में लगाना चाहती हूं। शाजिया ने ये भी कहा कि उन्हें विदेश से सिंगिंग के कई ऑफर्स मिलते रहे हैं लेकिन उन्होंने इन सभी ऑफर्स को ठुकरा दिया क्योंकि ये उनके धार्मिक उसूलों से मेल नहीं खाता है।

shazia kushk 1

उन्होंने कहा कि मैं शुक्रगुजार हूं अपने फैंस की कि उन्होंने मुझे इतना प्यार दिया और मेरे गानों को इतना पसंद किया। मैं उम्मीद करती हूं कि मेरे नए फैसले को भी मेरे फैंस उतना ही सम्मान देंगे। गौरतलब है कि शाजिया सिंधी, बलोच धातकी, सैराकी, उर्दू, कश्मीरी, गुजराती और पंजाबी भाषा में अपनी आवाज के लिए जानी जाती रही हैं।

shazia kushk

मैंने इस फैसले से पहले कई बार सोचा कि मुझे आगे क्या करना है और मैंने फैसला लिया है कि मैं वापस इस इंडस्ट्री में वापस नहीं जा रही हूं। उन्होंने ये भी कहा कि पिछले 25 सालों में लोगों ने उन्हें जो प्यार दिया, उसकी वे तहेदिल से शुक्रगुजार हैं।