जम्मू-कश्मीर: सेना को मिली बड़ी कामयाबी, अंसार गजवात उल हिंद का हुआ सफाया

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुई आतंकी मुठभेड़ में सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता मिली है। पुलवामा के अवंतिपोरा इलाके के राजपुरा गांव में हुए एक एनकाउंटर में अल कायदा के जुड़े आतंकी संगठन अंसार गजवत-उल-हिंद के चीफ आतंकी हमीद ललहारी को ढेर कर दिया है।

Written by: October 23, 2019 9:51 am

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुई आतंकी मुठभेड़ में सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता मिली है। पुलवामा के अवंतिपोरा इलाके के राजपुरा गांव में हुए एक एनकाउंटर में अल कायदा के जुड़े आतंकी संगठन अंसार गजवत-उल-हिंद के चीफ आतंकी हमीद ललहारी को ढेर कर दिया है।

Abdul Hamid Lelhari

इस मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए हैं। मारे गए आतंकियों की शिनाख्त नावेद टाक, हामिद लोन उर्फ हामिद ललहारी और जुनैद भट्ट के तौर पर हुई है।   ललहारी को जाकिर मूसा के मारे जाने के बाद से गजवत-उल-हिंद का प्रमुख बनाया गया था। मारे गए आतंकी के पास से सुरक्षाबलों को AK 72 राइफल बरामद की है।

सुरक्षाबलों को पुलवामा जिले के अवंतीपोरा इलाके के राजपोरा गांव में एक मकान में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली। इस सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर घर-घर तलाशी अभियान शुरू कर दिया। घेरा सख्त होता देख इलाके में छिपे आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू कर दी। सुरक्षा बलों ने इन्हें समर्पण करने के लिए कहा, लेकिन वे नहीं माने और सुरक्षा बलों पर लगातार फायरिंग करते रहे। इसके बाद जवाबी कार्रवाई से मुठभेड़ शुरू हो गई। रात लगभग आठ बजे तक चली मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मारने में सफलता मिली।

बता दें कि जून 2019 में अल-कायदा से संबद्ध अंसार गजवत-उल-हिंद ने हमीद ललहरी को अपने स्थानीय कमांडर के रूप में नियुक्त किया था। 30 साल का हमीद ललहारी जम्मू-कश्मीर के पुलवामा का रहने वाला है। ईद पर जारी एक वीडियो में अल-कायदा के सहयोगी ने कहा कि संगठन ने हमीद ललहारी को जाकिर मूसा की जगह स्थानीय कमांडर और गाजी इब्राहिम खालिद को डिप्टी के रूप में नियुक्त किया।