एक बार फिर फिसली अधीर रंजन की जुबान, निर्मला सीतारमण पर दिया आपत्तिजनक बयान

कॉरपोरेट टैक्स पर चर्चा के दौरान कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि कभी-कभी लगता है कि आपको (निर्मला सीतारमण) नहीं निर्बला सीतामरण कहना ठीक होगा कि नहीं।

Written by: December 2, 2019 3:51 pm

नई दिल्ली। कांग्रेस के सांसद और लोकसभा में कांग्रेस के संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी अपने विवादित बयानों की वजह से जाने जाते हैं और जहां उन्होंने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को घुसपैठिया कहा था। तो वहीं सोमवार को सदन की कार्रवाई के दौरान उन्होंने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बारे में आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया है।

nirmala sitaraman adhir ranjan chaudhary

कॉरपोरेट टैक्स पर चर्चा के दौरान कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि कभी-कभी लगता है कि आपको (निर्मला सीतारमण) नहीं निर्बला सीतामरण कहना ठीक होगा कि नहीं। आप मंत्री पद पर तो हैं लेकिन जो आपके मन में है वो कह पाती हैं या नहीं। आप(वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण) बिना किसी हिचक मनमोहन सिंह से बातचीत कीजिए। अगर देश को बचाना है तो मनमोहन सिंह से सलाह लेनी पड़ेगी।

इससे पहले पीएम मोदी और अमित के बारे में दिया था विवादित बयान

Adhir Ranjan Chowdhury

एनआरसी को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘हिंदुस्तान सबके लिए है। ये हिंदुस्तान किसी की जागीर है क्या? सबका समान अधिकार है। अमित शाह जी, नरेंद्र मोदी जी आप खुद घुसपैठिये हैं। घर आपका गुजरात है, आ गए दिल्ली। आप खुद माइग्रेंट हैं। वैध-अवैध बाद में पता चलेगा।’

Congress MP Adhir Ranjan Chowdhury speaks at Lok Sabha

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की अगुआई वाली केंद्र सरकार पूरे देश में एनआरसी (नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स) लागू करने की बात कह रही है। गृहमंत्री अमित शाह ने असम के बाद पूरे देश में एनआरसी लागू करने का वादा किया है।

Adhir Ranjan Chowdhury congress

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए अधीर रंजन चौधरी ने कहा, ‘वे दिखाना चाहते हैं कि मुसलमान को भगाएंगे। मुसलमान को भगाने की उनकी हिम्मत नहीं है। मुसलमान हमारे देश का नागरिक है, भागेगा क्यों? हिंदुस्तान सबके लिए है, हिंदू के लिए है, मुसलमान के लिए है। गंगा-जमुना तहजीब का हिंदुस्तान है। सबके सहयोग से हिंदुस्तान बना है। लेकिन वे दिखाना चाहते हैं कि हम हिंदू को रहने देंगे, मुसलमान को भगा देंगे।’