राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद रविशंकर प्रसाद का कांग्रेस पर करारा वार

अब इस फैसले के बाद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर करारा वार किया है। रविशंकर प्रसाद ने फैसले के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल गांधी और कांग्रेस ने देश को गुमराह किया है, ऐसे में उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए।

Written by: November 14, 2019 1:58 pm

नई दिल्ली। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने राफेल मुद्दे पर सुनवाई करते हुए ये साफ कर दिया कि, इस डील में पूरी पारदर्शिता है और इसमें रिव्यू की कोई जरुरत नहीं है। सुप्रीम कोर्ट के तीनों जजों ने कहा कि, राफेल डील पर सारे नियमों का पालन किया गया है। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद पूरी कांग्रेस पार्टी शांत हो गई है और राहुल गांधी जिन्होंने चुनाव के दौरान राफेल मुद्दे को भुनाने की कोशिश की थी, वो भी शांत हैं।

ravi shankar prasad

अब इस फैसले के बाद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर करारा वार किया है। रविशंकर प्रसाद ने फैसले के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल गांधी और कांग्रेस ने देश को गुमराह किया है, ऐसे में उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट से बचने के लिए तो राहुल गांधी ने माफी मांग ली है, लेकिन देश की जनता के सामने क्या करेंगे। उनसे माफी कब मांगेंगे?

ravi shankar prasad

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राफेल मामले में सच की जीत हुई है। सुप्रीम कोर्ट ने प्राइसिंग, खरीदने की प्रक्रिया को जांचा और उसे सही ठहराया है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस के द्वारा इस तरह का झूठा कैंपेन चलाया गया।

ravi shankar prasad

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले देश में प्रायोजित कैंपेन चलाया गया, अदालत से हारे तो लोकसभा चुनाव में प्रमुख मुद्दा बनाया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राहुल गांधी ने तो ये भी कह दिया था कि SC ने नरेंद्र मोदी को चोर कहा है। केंद्रीय मंत्री ने आरोप लगाया कि तब के कांग्रेस अध्यक्ष ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का राजनीतिक उपयोग किया।

रविशंकर प्रसाद का ‘राहुल गाथा’

केंद्रीय मंत्री ने इस दौरान ‘राहुल गाथा’ को सुनाया और आरोप लगाया कि राहुल गांधी ने लगातार इस मसले में झूठ बोला है। उन्होंने आरोप लगाया था कि फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ने पीएम मोदी को चोर कहा था, लेकिन खुद ओलांद ने इस बात को गलत करार दिया। राहुल गांधी ने अनिल अंबानी की कंपनी को फायदा पहुंचाने का दावा किया, लेकिन दसॉल्ट ने कहा था कि इस मामले में भारत सरकार का कोई रोल नहीं है।

रविशंकर प्रसाद ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी ने इस मामले में संसद में भी झूठ बोला, राफेल के दाम के बारे में देश को गुमराह किया। इस दौरान रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी के कुछ ट्वीट को भी दिखाया।

ravi shankar prasad rahul gandhi

तीस साल से देश की वायुसेना लड़ाकू विमान की मांग कर रही थी, वाजपेयी जी की सरकार ने इस मामले को आगे बढ़ाया था। लेकिन यूपीए सरकार ने इस डील को आगे नहीं बढ़ने दिया और इसमें रोड़ा अटकाया। रविशंकर प्रसाद ने सवाल किया कि आखिर वो कौन-सी ताकतें थीं जिसकी वजह से राहुल गांधी ने राफेल विमान सौदे को रोकने के लिए अभियान चलाया। केंद्रीय मंत्री ने आरोप लगाया कि जिनका कॉन्ट्रैैक्ट नहीं हो पाया था, क्या उनके दबाव में तो कांग्रेस ने ऐसा अभियान नहीं चलाय।