कमलनाथ के बाद अहमद पटेल के चीफ अकाउंटेंट के घर पड़ा आयकर विभाग का छापा

लोकसभा चुनाव को देखते हुए इस छापेमारी के बाद से कांग्रेस नेताओं का जवाब देना मुश्किल हो गया है। इससे पहले मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबी के घर पर हुई छापेमारी ने कांग्रेस को बैकफुट पर ला दिया है।

Written by Newsroom Staff April 9, 2019 9:11 am

नई दिल्ली। कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण कक्कड़ के घर छापेमारी के बाद हंगामा अभी थमा भी नहीं था कि कांग्रेस के एक और बड़े नेता अहमद पटेल के चीफ अकाउंटेंट के घर भी आयकर विभाग की टीम का छापा पड़ा है। इस छापे ने कांग्रेस को सकते में डाल दिया है। बता दें कि राज्यसभा सांसद अहमद पटेल सोनिया गांधी के काफी खास हैं।

सोमवार रात कांग्रेस के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल के करीबी के एसएम मोइन के पास करीब 20 करोड़ रुपये की रकम हवाला के जरिए आई है। अब इस मामले में अहमद पटेल के करीबी सूत्र ने पूरी जानकारी दी है। कहा जा रहा है कि मोइन सोमवार को पूरे दिन ऑफिस नहीं आया था, बताया गया कि वह बीमार है। अहमद पटेल शाम को उनके घर हालचाल लेने पहुंचे तो उन्हें छापेमारी की कोई जानकारी नहीं थी। उन्हें वहां पर जाने से भी किसी ने रोका नहीं था।’

अहमद पटेल मोइन के घर करीब 10 मिनट तक रुके, लेकिन छापेमारी में क्या हुआ उन्हें इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है। अहमद पटेल के सूत्र ने कहा कि कांग्रेस किसी तरह के हवाला से ताल्लुक नहीं रखती है, इस तरह की बातें चुनाव से पहले कौन फैला रहा है इसका मालूम नहीं है।

बता दें कि जब आयकर विभाग की टीम सोमवार को मोइन के घर दिल्ली की गीता कॉलोनी में छापेमारी के लिए पहुंची तो उनके साथ मीडियाकर्मी भी मौजूद थे। तभी लोकल लोगों ने वहां पर हंगामा किया और कई मीडियाकर्मियों के साथ बदसलूकी की।

इस छापेमारी को लेकर आयकर विभाग का कहना है कि एसएम मोइन ने ही हवाला के 20 करोड़ रुपये कांग्रेस दफ्तर में पहुंचाए थे। इसी शक में IT ने दिल्ली, एनसीआर, भोपाल, इंदौर और गोवा में छापेमारी की। बताया जा रहा है कि करीब 300 अधिकारियों ने ये सर्च ऑपरेशन चलाया और 52 ठिकानों पर रेड मारी।

लोकसभा चुनाव को देखते हुए इस छापेमारी के बाद से कांग्रेस नेताओं का जवाब देना मुश्किल हो गया है। इससे पहले मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबी के घर पर हुई छापेमारी ने कांग्रेस को बैकफुट पर ला दिया है।