आजम के पक्ष में आज अखिलेश का रामपुर दौरा, डीएम ने कार्यक्रम में किया बदलाव

14 सितंबर को अखिलेश रामपुर स्थित हमसफर रिजार्ट में धर्मगुरुओं, नगरपालिका अध्यक्षों, अधिवक्ताओं व महिला प्रतिनिधि मंडलों से भेंट करेंगे। इसके बाद अखिलेश जौहर विश्वविद्यालय जाएंगे और फिर आजम खान से उनके घर जाकर मुलाकत करेंगे।

Written by: September 13, 2019 11:42 am

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद आजम खान का समर्थन करने के लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव आज(शुक्रवार को) रामपुर पहुंचेंगे। हालांकि अखिलेश के कार्यक्रम में अब रामपुर जिला प्रशासन ने बदलाव कर दिया है। जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने इसके पीछे सुरक्षा कारणों का हवाला दिया है। उन्होंने बताया कि अखिलेश यादव को पीडब्लूडी के वीआईपी गेस्ट हाऊस में ठहराया जा सकता है, क्योंकि हमसफर रिजॉर्ट की बिजली व पानी का कनेक्शन काटा जा चुका है। पहले अखिलेश आजम खान के हमसफर रिजॉर्ट में ठहरने वाले थे।

Akhilesh Yadav

रामपुर में रुकने के दौरान अखिलेश हर उस संस्थान का दौरा करेंगे, जिसे प्रशासन ने अवैध करार कर दिया है। सपा के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया कि अखिलेश यादव 13, 14 व 15 सितंबर को बरेली व रामपुर के दौरे पर होंगे और विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेंगे।


अखिलेश 13 सितंबर को बरेली पहुंचेंगे, जहां वह पूर्व विधायक स्वर्गीय सियाराम सागर के घर जाकर उन्हें श्रद्घांजलि अर्पित करेंगे और उनके परिवार से मिलेंगे। अखिलेश बरेली से शाम चार बजे रामपुर जाएंगे और कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे।

14 सितंबर को अखिलेश रामपुर स्थित हमसफर रिजार्ट में धर्मगुरुओं, नगरपालिका अध्यक्षों, अधिवक्ताओं व महिला प्रतिनिधि मंडलों से भेंट करेंगे। इसके बाद अखिलेश जौहर विश्वविद्यालय जाएंगे और फिर आजम खान से उनके घर जाकर मुलाकत करेंगे। बताया गया कि कुछ अन्य कार्यक्रमों में भाग लेने के बाद अखिलेश बरेली लौट जाएंगे। वह 15 सितंबर को बरेली से लखनऊ वापसी करेंगे।

akhilesh yadav azam khan
ज्ञात हो कि सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने पिछले दिनों प्रेस कांफ्रेंस कर आजम के समर्थन में सपा कार्यकर्ताओं को आंदोलन करने को कहा था। इसके बाद अखिलेश ने 9 और 10 सितंबर को रामपुर का कार्यक्रम तय किया था, लेकिन जिला प्रशासन ने मोहर्रम और गणेश चतुर्थी का हवाला देकर उस समय न आने का अनुरोध किया था, जिसके बाद अखिलेश ने नई तारीख तय की।