अमित शाह ने कांग्रेस और कम्यूनिस्ट पार्टी को सदन के अंदर दिया करारा जवाब

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि सबसे पहले इस बिल को लेकर के जो भ्रांतियां हैं वह मैं दूर करना चाहता हूं दो सदस्यों ने जो कहा कि इस बिल को दो परिवारों को ध्यान में रखकर के लाया गया यह हकीकत नहीं है।

Written by: December 3, 2019 4:52 pm

नई दिल्ली। गृहमंत्री अमित शाह राज्यसभा में एसपीजी संशोधन बिल को पेश करने के दौरान प्रियंका गांधी की सुरक्षा में सेंध के मामले से लेकर कम्यूनिस्ट पार्टी को भी करारा जवाब दिया है। इसके साथ ही आपको बता दे, राज्यसभा से स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप(एसपीजी) बिल पास हो गया है। इस बिल पर वोटिंग के दौरान कांग्रेस के सांसदों ने सदन से वॉकउट कर लिया था।

Amit Shah

प्रियंका गांधी के मामले पर दिया जवाब

अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के घर पर एक घटना हुई। एक सूचना मिली कि राहुल गांधी घर पर मिलने आ रहे हैं। और राहुल गांधी, रॉबर्ट वाड्रा और सोनिया गांधी जब उनके घर पहुंचते हैं तो कोई जांच नहीं होती है। काले रंग की एक सफारी प्रियंका गांधी के घर में पहुंची। लेकिन इस गाड़ी में कांग्रेस की एक नेता थीं। जिस समय राहुल गांधी आने वाले थी उसी समय ही वे पहुंचीं। ये इत्तेफाक था। हमने जांच का आदेश दे दिया है।

Amit Shah

अमित शाह का कम्यूनिस्ट पार्टी और कांग्रेस पर बड़ा हमला

अमित शाह ने कहा कि सरकार ने गांधी परिवार से सुरक्षा वापस नहीं ली है। सिर्फ बदलाव किया गया है। जो रक्षा मंत्री, गृह मंत्री और उपराष्ट्रपति और राष्ट्रपति को सुरक्षा मिली है, वही उनको भी मिली है। उन्होंने कहा कि कम्यूनिस्ट पार्टी को राजनीतिक बदले पर बोलने को कोई हक नहीं है। केरल में बीजेपी-आरएसस के 120 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की हत्या हो जाती है। ये सिर्फ राजनीतिक बदले में होती है।

amit shah

‘पहले गांधी परिवार के लिए हुआ परिवर्तन’

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि सबसे पहले इस बिल को लेकर के जो भ्रांतियां हैं वह मैं दूर करना चाहता हूं दो सदस्यों ने जो कहा कि इस बिल को दो परिवारों को ध्यान में रखकर के लाया गया यह हकीकत नहीं है। मैं थोड़ी और स्पष्टता से कहूं तो कहने का यह आशय था, कि गांधी परिवार के तीन सदस्यों को ध्यान में रखकर यह बिल लाया गया यह ठीक नहीं है। जो पुराना कानून था उस आधार पर गांधी परिवार की सेक्युरिटी असेस्मेंट के आधार पर उनकी एसपीजी सुरक्षा हटा ली गई है।

उन्होंने आगे कहा कि, इसके लिए उनको दूसरी सुरक्षा दी गई है। अमित शाह ने कहा कि विवेक तनखा ने जो सवाल उठाया सवाल ठीक नहीं है। एक्ट के अंदर चार बार परिवर्तन हुए हैं। यह पांचवा परिवर्तन है। यह पांचवा परिवर्तन किसी परिवार के कारण नहीं हुआ है। उसके पहले ही एसपीजी सिक्योरिटी की जगह सीआरपीएफ जेड प्लस एंबुलेंस को दिया गया है। यह सुरक्षा किसी भी व्यक्ति के लिए देश में सबसे हाईएस्ट सुरक्षा है। परंतु मैं यह जरूर कहना चाहूंगा कि इससे पहले 4 बार जो परिवर्तन किए गए थे वह एक परिवार को ध्यान में रखकर किए गए थे।

amit shah

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि सिर्फ गांधी परिवार की सुरक्षा ही नहीं देश की 130 करोड़ जनता की सुरक्षा की जिम्मेदारी मोदी सरकार की है। परंतु यह जिद करना कि मुझे एसपीजी चाहिए यह जिद मुझे समझ में नहीं आती है। एसपीजी के जो लोग हैं कोई विदेश से नहीं आते हैं। यहां कई सिक्योरिटी के लोग हैं SPG से ही आते हैं। क्यों एक परिवार की सुरक्षा को लेकर के मुद्दा उठाया जा रहा है।