Connect with us

देश

Pitbull Atack: पिटबुल के अटैक का एक और मामला आया सामने, पिता के साथ जा रहे किशोर का नोंच डाला कान

Pitbull Attack: एक पिटबुल कुत्ते ने 13 साल के एक किशोर को कान से दबोच लिया और उसके कान को बुरी तरह से नोच डाला। लड़के का कान बुरी तरह जख्मी हो गया है। मौके पर मौजूद किशोर के पिता ने उसे बचाया। अगर वो वहां न होते तो उसकी जान भी जा सकती थी।  

Published

on

pitbull attack file

नई दिल्ली। कुछ लोगों को जानवर पालने का शौक होता है, जिसके चलते वो गाय, बकरी, कुत्ता आदि पालते हैं। लेकिन मात्र अपने शौक को पूरा करने के लिए किसी जीव को कैद में क्या सही है? वो भी किसी खतरनाक जानवर को?  उसमें भी वो जानवर जिन्हें पालने पर बैन लगाया गया है। इन पर प्रतिबंध इसलिए ही लगाया गया है क्योंकि ये अपने मालिक को ही हानि पहुंचा देते हैं। बीते दिनों ऐसी कई खबरें सामने आ चुकी हैं। हाल ही में एक घटना सामने आई थी कि एक पिटबुल नस्ल के कुत्ते ने अपनी मालकिन को नोंच-नोंच कर मार डाला। ये खबर अभी ठंडी हुई भी नहीं थी कि पंजाब के बटाला के एक गांव कोटली भाम सिंह से भी एक घटना सामने आ गई। यहां एक पिटबुल कुत्ते ने 13 साल के एक किशोर को कान से दबोच लिया और उसके कान को बुरी तरह से नोच डाला। लड़के का कान बुरी तरह जख्मी हो गया है। मौके पर मौजूद किशोर के पिता ने उसे बचाया। अगर वो वहां न होते तो उसकी जान भी जा सकती थी।  घायल बच्चे को इलाज के लिए बटाला के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पीड़ित बच्चे का नाम गुरप्रीत सिंह है। गुरप्रीत की दादी हरदीप कौर ने बताया कि ‘शुक्रवार देर शाम को गुरप्रीत और उसके पिता खेतों में यूरिया डालने गए थे। वापस आते समय रास्ते में उनका स्कूटर खराब हो गया। वो स्कूटर ठीक करवा कर अपने पिता के साथ घर लौट रहा था, तभी रास्ते में गांव का ही एक युवक अपने पिटबुल कुत्ते के साथ आता दिखाई दिया। गुरप्रीत को देखकर कुत्ते ने अचानक भौंकना शुरू कर दिया। कुत्ते को भौंकता हुआ देखकर उसके मालिक ने उसे छोड़ दिया, जिसके बाद कुत्ते ने उस पर हमला कर दिया और कान से पकड़ कर दबोच लिया। इसके बाद लड़के के पिता ने बड़ी मशक्कत के बाद कुत्ते के मुंह से लड़के के कान को छुड़वाया।’

पीड़ित को बटाला सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसका इलाज कर रहे डॉक्टर गुरपाल सिंह ने जानकारी दी कि ‘बच्चे का कान काफी बुरी तरह से काटा गया है। फिलहाल, अभी बच्चे की हालत स्थिर है और उसका इलाज जारी है।’ उन्होंने आगे बताया कि ‘बच्चे को डॉग बाइट इंजेक्शन लगा दिया गया है। इसके अलावा सभी प्राथमिक उपचार भी कर दिए गए हैं।’

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement