पाकिस्तान की एक और कायराना हरकत, एलओसी पर किया गया आईईडी ब्लास्ट, एक जवान शहीद तीन घायल

पाकिस्तान की नापाक हरकत को देखते हुए एलओसी पर सर्च आपरेशन भी चलाया गया ताकि कहीं और भी इस प्रकार की आईईडी लगाई गई हो तो उसका पता लगाया जा सके। एलओसी पर हुए इस हादसे से सीमावर्ती लोगों में भय का माहौल है।

Written by: November 17, 2019 9:13 pm

नई दिल्ली। अपनी कायराना हरकतों से पाकिस्तान एक बार फिर बाज नहीं आया। पाकिस्तान ने एलओसी पर पलांवाला सेक्टर में जीरो लाइन पर फेंसिंग के बिल्कुल पास आईईडी प्लांट कर दी। इसमें विस्फोट हुआ और पेट्रोलिंग कर रहे एक भारतीय सेना के जवान शहीद हो गए। वहीं इस ब्लास्ट में तीन अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गए।Havaldar Santosh Kumar, a resident of Pura Bhadauria village in Agra, was martyred in a suspected IED blast in Akhnoor

विस्फोट में भारतीय सेना का वाहन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। घटना के बाद पूरी एलओसी पर सतर्कता बढ़ा दी गई है। हालांकि, घटना के विषय में सेना की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है।


घटना रविवार सुबह 11 बजे की है। सेना का वाहन हर रोज की तरह रविवार की सुबह सैनिकों को लेकर सीमा की पोस्टों पर जा रहा था। इस बीच कच्ची सड़क पर पाकिस्तान की ओर से आईईडी लगाई गई थी। इस पर वाहन का अगला टायर चढ़ते ही विस्फोट हो गया, जिससे अगला हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।Indian Army

वाहन में सेना के चार जवान सवार थे, जिनमें से तीन गंभीर रूप से घायल हो गए। गंभीर रूप से घायल दो जवानों हवलदार संतोष तथा नायक जिमरा राम को एयरलिफ्ट कर सेना के कमान अस्पताल उधमपुर ले जाया गया।indian army

कमान अस्पताल उधमपुर में तैनात डॉक्टरों ने हवलदार संतोष को मृत लाया घोषित कर दिया। जिमरा राम का इलाज चल रहा है, जहां उसकी स्थिति गंभीर बताई जाती है। तीसरे जवान नायक कृष्ण प्रताप का इलाज सेना के अखनूर स्थित अस्पताल में चल रहा है।Indian Army

घटना के बाद सेना ने एलओसी पर सतर्कता बढ़ाते हुए गश्त के दौरान अतिरिक्त सतर्क रहने को कहा है। पाकिस्तान की नापाक हरकत को देखते हुए एलओसी पर सर्च आपरेशन भी चलाया गया ताकि कहीं और भी इस प्रकार की आईईडी लगाई गई हो तो उसका पता लगाया जा सके। एलओसी पर हुए इस हादसे से सीमावर्ती लोगों में भय का माहौल है।