सपा सीएए और NRC का कर रही है विरोध, पर मुलायम की छोटी बहू ने किया समर्थन

एक तरफ जहां पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव, सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे हैं तो वहीं उन्हीं की परिवार की सदस्य इसका समर्थन कर रही हैं। समाजवादी पार्टी के सरंरक्षक मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने इसे लेकर ट्वीट किया है।

Written by: December 17, 2019 9:24 am

लखनऊ। एक तरफ जहां पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव, सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे हैं तो वहीं उन्हीं की परिवार की सदस्य इसका समर्थन कर रही हैं। समाजवादी पार्टी के सरंरक्षक मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने इसे लेकर ट्वीट किया है।

Aparna Bisht Yadav

अपर्णा ने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर लिखा कि जो भारत का है, उसे रजिस्टर में अंकित होने में क्या समस्या है? अपने ट्वीट में उन्होंने जामिया मिल्लिया, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी और 16 दिसंबर के हैशटैग का इस्तेमाल किया।

अपर्णा ने एनआरसी को लेकर हो रहे विरोध पर भी सवाल उठाए हैं। फेसबुक और ट्विटर पर अपने एकाउंट से पोस्ट कर उन्होंने सवाल उठाया कि जो भारत का है, उसे अपना नाम रजिस्टर में दर्ज कराने में क्या परेशानी है।

पहला मौका नहीं, जब अपर्णा ने मोदी सरकार के फैसले का खुला समर्थन किया हो। इससे पहले भी वह स्वच्छता अभियान पर केंद्र सरकार का समर्थन कर चुकी हैं।

aparna yadav

अपर्णा सपा की सदस्य हैं और साल 2017 में उन्होंने पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव भी लड़ा था। एनआरसी के मुद्दे पर अपर्णा और सपा प्रमुख अखिलेश यादव की राय अलग-अलग है।

Akhilesh Yadav

इससे पहले सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने नागरिकता संशोधन कानून पर सरकार को घेरते हुए इसे भारत और संविधान का अपमान बताया है। अखिलेश यादव ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि ना किसान की आय दोगुनी हुई, ना गंगा साफ़ हुई, ना अर्थव्यवस्था में सुधार लाए, ना काला धन वापस लाए, ना नौकरियां लाए, ना बेटियों को बचा पाए, ना विकास कर पाए। मैंने पहले कहा था, इनकी राजनीति ध्यान हटाने और समाज बांटने की है। नागरिकता संशोधन कानून भारत का और संविधान का अपमान है।