रेप आरोपी बसपा सांसद अतुल राय ने अदालत में किया सरेंडर

रेप का आरोप झेल रहे राय वोटिंग के दौरान और नतीजे के दिन भी फरार थे। इसके बावजूद वो बीजेपी सांसद हरिनारायण राजभर से 1,22,018 हजार मतों से जीत गए।

Written by: June 22, 2019 1:51 pm

नई दिल्ली। घोषी लोकसभा क्षेत्र से बसपा सांसद अतुल राय ने वाराणसी की जिला मजिस्ट्रेट अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया है। अतुल राय चुनाव बाद से ही फरार चल रहे थे। अतुल राय पर एक युवती के साथ रेप करने का आरोप था।

लड़की ने बसपा सांसद पर आरोप लगाया था कि उन्होंने वाराणसी के लंका इलाके में एक मकान में जबरन ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया है। अतुल राय ने अग्रिम जमानत की तमाम कोशिशें की लेकिन असफल रहे। फरार होने के चलते वो शपथ ग्रहण समारोह में भी शामिल नहीं हुए थे। अब उन्होंने वाराणसी जिला मजिस्ट्रेट अदालत में सरेंडर किया है।

वाराणसी कोर्ट ने आरोपी अतुल राय को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा है। गौरतलब है कि रेप के आरोपी अतुल राय अभी तक जीत के बाद भी संसद नहीं गए हैं। अतुल राय के अदालत में पेश न होने पर उनके घर पर कुर्की का नोटिस चस्पा किया गया था।

संसद के नियमों के मुताबिक अगर किसी सांसद पर आपराधिक मुकदमा दर्ज है तो पुलिस उसे गिरफ्तार कर सकती है लेकिन गिरफ्तारी के 24 घंटे के भीतर इसकी सूचना लोकसभा अध्यक्ष को देनी होती है।

बता दें कि अतुल राय ने भले ही सांसद के तौर पर शपथ ना ली हो लेकिन प्रमाण पत्र मिलने से ही उन्हें विशेषाधिकार मिला हुआ है। अतुल कुमार राय पर बलिया की एक युवती ने रेप, धोखाधड़ी और धमकी देने समेत कई धाराओं मामला दर्ज कराया है। यह मामला वाराणसी के लंका थाने में दर्ज हुआ है। युवती का आरोप है कि बसपा सांसद ने रेप करने के बाद मुंह बंद रखने की धमकी भी थी।

रेप का आरोप झेल रहे राय वोटिंग के दौरान और नतीजे के दिन भी फरार थे। इसके बावजूद वो बीजेपी सांसद हरिनारायण राजभर से 1,22,018 हजार मतों से जीत गए।