बेंगलुरू में पुलिस अधिकारी ने राष्ट्र गान गाकर ऐसे जीता प्रदर्शनकारियों का दिल

देशभर में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ हो रहे हिंसक प्रदर्शन के बीच बेंगलुरू में एक आईपीएस रैंक के पुलिस अधिकारी ने राष्ट्रगान गाकर प्रदर्शनकारियों का दिल जीत लिया, जिसके बाद प्रदर्शनकारी शांतिपूर्वक वहां से लौट गए।

Written by: December 20, 2019 8:11 pm

बेंगलुरू। देशभर में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ हो रहे हिंसक प्रदर्शन के बीच बेंगलुरू में एक आईपीएस रैंक के पुलिस अधिकारी ने राष्ट्रगान गाकर प्रदर्शनकारियों का दिल जीत लिया, जिसके बाद प्रदर्शनकारी शांतिपूर्वक वहां से लौट गए। Bengaluru Central DCP Chethan Singh Rathoreयहां सिटी सेंटर के टाउन हॉल में गुरुवार को लोग प्रदर्शन कर रहे थे। उन्हें समझाने के लिए पुलिस उपायुक्त (सेंट्रल) चेतन सिंह राठौड़ पहुंचे। उन्होंने प्रदर्शनकारियों से कहा, “अगर आपको मुझ पर और जो मैं कह रहा हूं, उस पर विश्वास है तो आप सभी मेरे साथ एक गीत गाएं।”Bengaluru Central DCP Chethan Singh Rathore इसके बाद उन्होंने राष्ट्रगान जन गण मन गाना शुरू कर दिया और प्रदर्शनकारी भी उनके साथ गाने लगे।

राठौड़ ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया कि उन्होंने सीआरपीसी की धारा 144 के तहत प्रतिबंध लगाए गए क्षेत्र से प्रदर्शनकारियों को हटने के लिए किस तरह राजी किया।


राठौड़ ने बताया कि प्रदर्शन स्थल पर एकत्रित हुए अधिकांश लोगों को नियंत्रित करने के लिए कोई भी नेता नहीं था और वह सोशल मीडिया के माध्यम से प्रदर्शन करने पहुंचे थे।

शुक्रवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो क्लिप में राठौड़ प्रदर्शनकारियों को असामाजिक तत्वों से सावधान रहने के लिए कहते हुए दिखाई दिए।Bengaluru Central DCP Chethan Singh Rathore

राठौड़ की बेहतर सलाह पर भरोसा करते हुए कई प्रदर्शनकारियों ने न केवल उनकी सराहना की, बल्कि बात भी मान ली।

प्रदर्शनकारी राठौड़ के साथ राष्ट्र गान गाते नजर आए। इस दौरान कुछ लोग तालियां व सीटी बजाते देखे गए और उन्होंने पूरे जोश के साथ राष्ट्र गान भी गाया।


प्रदर्शनकारियों ने बाद में जय हिंद के नारे लगाए और वहां से हट गए। राठौड़ द्वारा बिना किसी बल प्रयोग के प्रदर्शनकारियों को हटा दिया गया, जिसकी सोशल मीडिया पर भी काफी सराहना की जा रही है।