भाजपा उम्मीदवार सुधांशु त्रिवेदी ने राज्यसभा के लिए नामांकन किया

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन के बाद खाली हुई उनकी राज्यसभा सीट के लिए भाजपा उम्मीदवार सुधांशु त्रिवेदी ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल किया।

Written by: October 4, 2019 5:10 pm

लखनऊ। पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन के बाद खाली हुई उनकी राज्यसभा सीट के लिए भाजपा उम्मीदवार सुधांशु त्रिवेदी ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल किया। सुधाशु के नामांकन के समय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, राज्यसभा सदस्य डॉ. अशोक वाजपेयी तथा योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल के कई सहयोगी उपस्थित थे। एक सीट पर हो रहे उपचुनाव में किसी अन्य दल के प्रत्याशी का नामांकन न होने से सुधांशु त्रिवेदी का निर्विरोध निर्वाचित होना तय माना जा रहा है।

sudhanshu

इससे पहले गुरुवार को राज्यसभा उपचुनाव के लिए भाजपा ने पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को उत्तर प्रदेश से उम्मीदवार बनाया है। पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बृहस्पतिवार को हुई बैठक में इनके नाम पर मुहर लगाई गई। सुधांशु त्रिवेदी लंबे समय से पार्टी के प्रवक्ता के तौर पर काम कर रहे थे। भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी और पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा का भी नाम इस सीट के लिए चल रहा था, लेकिन दोनों नामों पर सुंधाशु त्रिवेदी भारी पड़े।

राजनाथ सिंह जब प्रदेश के मुख्यमंत्री थे, तब त्रिवेदी उनके करीब आए और उनके पार्टी अध्यक्ष बनने पर बतौर सलाहकार उनकी भूमिका चर्चा में रही। सुधांशु त्रिवेदी ने बाद में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी प्रभावित किया।

bjp spokesperson sudhanshu trivedi

लखनऊ के सुधांशु ने मैकेनिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी करने के बाद कई विश्वविद्यालयों में अध्यापन कार्य किया है। उप्र के मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार और राजनाथ सिंह के पार्टी अध्यक्ष रहते उनके राजनीतिक सलाहकार रहे सुधांशु त्रिवेदी वर्ष 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में भी टिकट के प्रबल दावेदार थे। राज्यसभा के लिए भी उनके नाम की कई बार चर्चा हुई, लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिला।