कैलाश विजयवर्गीय का आरोप, ‘बंगाल में मेरी गाड़ी को मुस्लिमों की भीड़ ने घेरा’

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल के लिए पार्टी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने दावा किया है कि मुर्शिदाबाद जाते समय उनकी गाड़ी को मुस्लिमों की भीड़ ने घेर लिया।

Written by: December 18, 2019 6:30 pm

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल के लिए पार्टी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने दावा किया है कि मुर्शिदाबाद जाते समय उनकी गाड़ी को मुस्लिमों की भीड़ ने घेर लिया। बता दें, विजयवर्गीय ने बुधवार दोपहर को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

कैलाश विजयवर्गीय ने एक वीडियो शेयर किया जिसमें लोगों की भीड़ दिखाई पड़ रही है। विजयवर्गीय ने आरोप लगाया कि भीड़ ने उन्हें घेर लिया और प्रशासन कोई सुनवाई नहीं कर रहा है। कैलाश विजयवर्गीय ने अपने ट्वींट संदेश में लिखा है कि भीड़ की उग्रता को देखते हुए लग रहा है कि उसे भड़काकर उनके खिलाफ किया गया है। कैलाश विजयवर्गीय ने अपने ट्वींट संदेश में यह भी आरोप लगाया कि स्थानीय पुलिस अधिकारी यानि एसपी और डीजी फोन नहीं उठा रहे हैं।


अपने पहले ट्वींट संदेश में कैलाश विजयवर्गीय ने लिखा, “मुर्शिदाबाद जाते हुए मुझे नवग्राम के पास मुस्लिमों की बड़ी भीड़ ने घेर लिया है। मेरी गाडी के दोनों तरफ भीड़ जमा है। प्रशासन कोई सुनवाई नहीं कर रहा! SP और DG भी फ़ोन नहीं उठा रहे! पश्चिम बंगाल में अराजक सरकार के रहते कुछ भी हो सकता है! यहाँ किसी की जान सुरक्षित नहीं है!’’

बता  दें कि नागरिकता कानून को लेकर पश्चिम बंगाल समेत देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन चल रहा है। इसी बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में हावड़ा मैदान से कोलकाता स्थित एस्प्लेनेड तक सोमवार के बाद से तीसरा मार्च निकाला। इस दौरान ममता ने कहा कि मैं केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से यह सुनिश्चित करने की गुजारिश करती हूं कि देश संशोधित नागरिकता कानून की आग में ना जले। उन्होंने कहा कि अमित शाह का काम आग बुझाना है।